दस केन्द्रों पर विद्यार्थियों ने की उत्तर पुस्तिकाएं जमा, दिनभर लगी रही भीड़

ओपन बुक परीक्षा प्रणाली के तहत हुई है परीक्षा

By: sachendra tiwari

Updated: 14 Sep 2020, 08:20 PM IST

बीना. कोरोना के चलते कॉलेज के विद्यार्थियों की परीक्षा ओपन बुक प्रणाली के तहत आयोजित की गई और घर से ही प्रश्नपत्र हल करने बाद उसकी उत्तर पुस्तिकाएं सोमवार को दस केन्द्रों पर जमा की गईं। पीजी कॉलेज, गल्र्स कॉलेज में बनाए केन्द्र पर विद्यार्थी सबसे ज्यादा संख्या में पहुंचे।
उत्तर पुस्तिकाएं जमा करने के लिए ग्राम कंजिया, मंडीबामोरा, हिन्नौद, भानगढ़, कोंरजा, गिरोल, सनाई, विराग सागर कॉलेज, गल्र्स, पीजी कॉलेज में केन्द्र बने थे। पीजी कॉलेज में स्वध्यायी विद्यार्थियों के लिए जिले का काउंटर बनाया गया था। पीजी कॉलेज में ज्यादा विद्यार्थी होने के कारण चौदह काउंटर बनाए गए थे और सोशल डिस्टेंस बनाने के लिए कर्मचारियों की ड्यूटी लगाई गई थी, लेकिन भीड़ ज्यादा होने पर कई बार सोशल डिस्टेंस टूटता हुआ नजर आया। नियमों का पालन कराने के लिए प्राचार्य डॉ. एमएल सोनी भी व्यवस्था संभालते नजर आए। यहां यूजी में 474, पीजी अंतिम वर्ष में 160 और स्वाध्यायी यूजी, पीजी के 186 विद्यार्थियों ने उत्तर पुस्तिकाएं और असाइनमेंट जमा किए। प्राचार्य ने बताया कि जो विद्यार्थी उत्तर पुस्तिकाएं जमा नहीं कर पाए हैं उनके लिए क्या व्यवस्था की गई है इस संबंध में कोई आदेश नहीं आए हैं।
गल्र्स कॉलेज में भी हुईं उत्तर पुस्तिकराएं जमा
गल्र्स कॉलेज में बीए तृतीय वर्ष में 286 पंजीकृत विद्यार्थियों में से 200 उत्तर पुस्तिकाएं जमा की गईं। बीकॉम तृतीय 68 पंजीकृत विद्यार्थी 64 उत्तर पुस्तिकाएं जमा, बीएससी तृतीय वर्ष 34 में से 26 उत्तर पुस्तिकाएं जमा, एमकॉम 16, एमए हिंदी चतुर्थ सेमेस्टर 50 में से 47, एमए समाजशास्त्र 14 में से 12 उत्तर पुस्तिकाएं जमा की गईं। इतिहास, राजनीति शास्त्र, अर्थशास्त्र, अंग्रेजी साहित्य चतुर्थ सेमेस्टर, बीए द्वितीय वर्ष, तृतीय वर्ष, एमबीए और अन्य संकाय के स्वाध्यायी, नियमित विद्यार्थियों ने उत्तर पुस्तिकाएं जमा की। 28 विद्यार्थियों अन्य उत्तर पुस्तिकाएं जमा की। प्राचार्य डॉ. चंदा रत्नाकर, प्रभारी डॉ. संध्या टिकेकर, डॉ. उमा लवानिया द्वारा व्यवस्था संभाली गई।

sachendra tiwari Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned