भारी वाहनों का अतिरिक्त दबाव फिर नहीं किया गया किर्रोद-किर्रावदा बायपास रोड का पेंचवर्क

बारिश के कारण गहरे होते जा रहे गड्ढे, दुर्घटना का बना रहता है डर

By: anuj hazari

Published: 22 Jun 2020, 09:00 AM IST

बीना. शहर के लोगों को ट्रैफिक से निजात दिलाने के लिए भोपाल रोड से आगासौद रोड को जोडऩे किर्रोद गांव से किर्रावदा तक का बायपास रोड का निर्माण कराया गया है, लेकिन यह रोड गड्ढों में तब्दील होता जा रहा है, जिसके कारण वाहन निकालने में लोग परेशान हो रहे हैं। यहां पर कई जगहों पर गड्ढा हो जाने के कारण बारिश के बाद वह दिखाई नहीं देते हैं, जहां से निकलते समय वाहन इन गड्ढों में गिरकर फंस तक जाते हैं। पिछले वर्ष कुछ जगहों पर पेंचवर्क किया भी गया था, लेकिन फिर से स्थिति जस की तस होने लगी है। वाहन में टूटफूट न हो इसलिए वाहनों को काफी धीमी गति से निकालना पड़ता है। झांसी गेट पर चल रहे ओवरब्रिज के निर्माण के बाद शहर से भारी वाहन पूरी तरह से प्रतिबंधित है।
दो पहिया वाहनों के लिए खतरनाक है यह मार्ग
यहां से निकलते समय भारी वाहन में टूटफूट हो रही और दुर्घटनाएं भी हो जाती है, लेकिन सबसे ज्यादा खतरा दो पहिया वाहन चालकों के लिए रहता है जो खतरों के बीच यहां निकलते हैं। यदि यहां पर कोई दो पहिया वाहन गड्ढे में गिरा तो जान भी जा सकती है। क्योंकि पहले भी यहां पर घटनाएं हो चुकी हैं। दूर से यह दिखाई नहीं देते हैं और वहां तक पहुंचते-पहुुंचते लोग दुर्घटना का शिकार हो जाते हंै। एक तरफ ज्यादा गड्ढा होने से वाहन गलत साइड से ले जाने मजबूर हंै।
मोड़ पर लगी झाडिय़ां, नहीं दिखते वाहन
इस मार्ग पर कई जगहों पर अंधे मोड़ भी हैं, जहां पर झाडिय़ों के कारण सामने से आने वाले वाहन दिखाई नहीं देते हैं। यहां पर हमेशा ही जान का खतरा लोगों को बना रहता है। झाडिय़ां बड़ी हो जाने के कारण सामने का कुछ दिखाई नहीं देता है।

anuj hazari
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned