कमिश्नर ने पीडब्ल्यूडी को दी मोहलत, 10 जून के बाद यदि भवन नहीं हुआ हैंडओवर तो होगी कार्रवाई

कमिश्नर ने पीडब्ल्यूडी को दी मोहलत, 10 जून के बाद यदि भवन नहीं हुआ हैंडओवर तो होगी कार्रवाई

Aakash Tiwari | Publish: May, 18 2019 07:07:02 AM (IST) Sagar, Sagar, Madhya Pradesh, India

बुंदेलखंड मेडिकल कॉलेज में शुक्रवार को कमिश्नर ने बीएमसी में हुए निर्माण कार्यों के संबंध में ली बैठक।

सागर. बुंदेलखंड मेडिकल कॉलेज में शुक्रवार को कमिश्नर मनोहर दुबे की अध्यक्षता में शाम ४ बजे निर्माण कार्यों के संबंध में महत्वपूर्ण बैठक हुई। बैठक में हफसिली के इंसीनरेटर प्लांट का मुद्दा छाया रहा। कमिश्नर दुबे ने भवन अब तक हैंडओवर न लिए जाने पर पीडब्ल्यूडी अधिकारियों को जमकर फटकार लगाई। उन्होंने बताया कि भवन हैंडओवर न होने से प्लांट शुरू होने में बेवजह देरी हो रही है। हालांकि पीडब्ल्यूडी के अधिकारी ने बतााय कि भवन में करीब २ लाख रुपए की क्षति हुई है। दरबाजे, बिजली फिटिंग चोर उखाड़कर ले गए हैं। इधर, हाउसिंग बोर्ड ने इस काम को जल्द पूरा कराने की बात कही। इस पर कमिश्नर ने 10 जून तक का वक्त दिया है और इस समय सीमा के अंदर भवन हैंडओवर हो जाने के सख्त निर्देश भी दिए हैं। वहीं, एप्रोच रोड के निर्माण को लेकर भी बैठक में चर्चा हुई। यहां बताया गया कि प्लांट के लिए जो एप्रोच रोड बनाई जाना है वह नगर निगम के अंदर नहीं आती है। ग्राम पंचायत से इसका निर्माण कराया जाना है। सड़क निर्माण पर ७५ लाख रुपए खर्च होना है। कमिश्नर दुबे ने पंचायत के लिए पत्र लिखकर जल्द निर्माण कार्य पूर्ण कराने के निर्देश दिए हैं।
बैठक में नगर निगम आयुक्त अनुराग वर्मा, डीन डॉ. जीएस पटेल, अधीक्षक डॉ. एसके पिप्पल सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

30 मई तक दें जवाब
बैठक में कमिश्नर दुबे ने बीएमसी में 2 करोड़ रुपए से होने वाले मैनटेनेंस और पुताई के काम की समीक्षा की। इस दौरान उन्होंने पीडब्ल्यूडी अधिकारियों से अब तक हुए कार्यों के सबंध में जवाब मांगा, लेकिन अधिकारी जवाब दे सके। इस पर कमिश्नर ने उन्हें फटकार लगाई और 30 मई तक अब तक हुए कार्यों का लेखा जोखा प्रस्तुत करने के निर्देश दिए है।

-राजघाट पाइप लाइन पर हुई चर्चा
राजघाट से बीएमसी तक प्रबंधन द्वारा बिछवाई गई पाइप लाइन के संबंध में भी बैठक में चर्चा हुई। यह पाइप लाइन अभी तक दुरुस्त नहीं हो पाई है। इस पर कमिश्नर ने नगर पालिका निगम को 15 जुलाई तक सभी अवैध कनेक्शन हटाने के निर्देश दिए हैं। पाइप लाइन का मैंटनेंस लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग से करने को कहा और जब तक अवैध कनेक्शन नगर पालिका निगम द्वारा हटाए नहीं जायेंगे तब तक मैंटेनेंस का कार्य निगम द्वारा किया जाएगा। इसके लिए आयुक्त नगर पालिका निगम द्वारा एक अधिकारी एवं कर्मचारी की नियुक्ति की जाएगी।

बैठक में पीआईयू को स्किल सेंटर के तत्काल निर्माण करने के निर्देष दिए। वहीं, पीडब्ल्यूडी को भी ऑडिटोरियम भवन का हस्तांतरण तत्काल करने को कहा है।

 

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned