मांस दुकानों से परेशान हुए शहर के लोग, अवैध दुकानों पर नहीं प्रशासन का शिकंजा

दुकानें हटाने एसडीएम को सौंपा ज्ञापन

By: sachendra tiwari

Published: 24 Sep 2021, 09:25 PM IST

बीना. शहर में जगह-जगह खुलेआम चल रही मांस की दुकानों से लोग परेशान हो चुके हैं और शुक्रवार को धर्म जागरण मंच सहित शहरवासियों ने एसडीएम प्रकाश नायक को ज्ञापन सौंपकर दुकानों को हटाने की मांग की है। ज्ञापन में उल्लेख किया गया है कि बड़ी बजरिया में रामवार्ड, मस्जिद वार्ड के रहवासी इलाके में खुली मांस की दुकानों से जनता परेशान हैं। मांस की बदबू से लोगों का बुरा हाल रहता है और धार्मिक भावनाएं आहत हो रही हैं। शहरवासियों ने मांस दुकानों की जगह बदलने और अवैध दुकानदारों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है। युवाओं ने बताया कि यहां खुलेआम जानवरों को काटा जाता है और दुकानों के सामने लटकाया जाता है। यहां गोमांस बिक्री के मामले सामने आ चुके हैं। इसलिए दुकानों की अनुज्ञप्ति की जांच कर अवैध दुकानें बंद कराई जाएं। ज्ञापन सौंपने वालों में अधिवक्ता अभिषेक राय, दीपक जैन, धीरजसिंह ठाकुर, भूपेंद्र सिंह ठाकुर लखाहर, राजीव गोस्वामी, राहुल जैन, संजय साहू, रंधीर साहू, आरके पालीवाल, संजीव जैन, प्रिंस राजपूत, अविनाश नलवंशी, पंकज जैन, रतिराम पटेल, अंकित पाराशर, रोशन रजक, अरुण दुबे, ब्रजेश सैनी सहित बड़ी संख्या में लोग मौजूद रहे।
खिमलासा रोड पर भी हो रही मांस दुकानें संचालित
खिमलासा रोड पर बस स्टैंड और आंबेडकर चौक के बीच भी सड़क किनारे दुकानें संचालित होती हैं। यहां से मंदिर, तहसील, गल्र्स कॉलेज, न्यायालय जाते हैं। यहां भी खुलेआम मांस का कारोबार चल रहा है। आगासौद रोड सहित शहर में जगह-जगह मांस की अवैध दुकानें खोली गई हैं। जिससे एक बहुत बड़े वर्ग की धार्मिक भावनाएं आहत हो रही हैं। कोरोना गाइडलाइन के कारण लोग सुरक्षात्मक तरीके से जी रहे हैं, जबकि शहर के बीचों-बीच मांस कारोबार से संक्रमण का खतरा बना हुआ है। इसलिए मांस दुकानों को शहर से बाहर किया जाए और अवैध कारोबारियों पर कार्रवाई की जाए।

Show More
sachendra tiwari Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned