मण्डी में हजारों क्वींटल प्याज खरीदी घोटाला

मण्डी में हजारों क्वींटल प्याज खरीदी घोटाला

Vishnu Kumar Soni | Updated: 04 Jul 2019, 10:00:00 AM (IST) Sagar, Sagar, Madhya Pradesh, India

रहली और देवरी मण्डी में हुई जांच, देवरी में बंद मिले कैमरे

देवरीकलां/रहली. मुख्यमंत्री प्याज प्रोत्साहन योजना में गड़बड़ी की शिकायत पर एडीएम जीएस डाबर एवं मंडी बोर्ड के डीएस प्रवीण वर्मा, कृषि विभाग के डीडीए एवं उद्यान विभाग की अधिकारियों के साथ देवरी मंडी पहुंचे। करीब 3 घंटे तक मंडी में 29 जून तक हुई नीलामी के माध्यम से प्याज की खरीद फरोख्त के दस्तावेजों की जांच पड़ताल की। जांच में 1 लाख 41 हजार क्वींटल प्याज खरीदी के अनुज्ञा पत्र नहीं मिले। मंडी सचिव, ऑपरेटर एवं प्याज व्यापारियों से पूछताछ भी की। मंडी व्यापारियों से प्याज क्रय विक्रय के दस्तावेज उपलब्ध कराने के निर्देश दिए। एडीएम जीएस डाबर ने बताया कि खरीदी में गड़बड़ी की शिकायत पर देवरी कृषि उपज मंडी के डाक्यूमेंट्स की जांच की है, जिसमें किसानों के पंजीयन से अधिक मात्रा में प्याज की खरीदी की गई है, जिसमें 51 हजार क्विंटल के अनुज्ञा पत्र बनाए गए हैं, जबकि 1 लाख 97 हजार क्विंटल की खरीदी दर्शाई गई है। इस संबंध में प्याज व्यापारियों से प्याज विक्रय के दस्तावेज मांगे गए हैं। जांच में आगे गड़बड़ी पाई जाती है तो संबंधित अधिकारियों पर कार्रवाई की जाएगी। कृषि उपज मंडी प्रांगण के सीसीटीवी कैमरे 26 जून से बंद रहने की शिकायत पर उन्होंने जांच कराने का आश्वासन दिया है।

दस्तावेज खंगाले
बीते दिनों रहली कृषि उपज मंडी में हुई प्याज की खरीदी की शिकायतें के बाद कलेक्टर के निर्देशन में एक जांच दल गठित किया गया है। बुधवार को जांच दल मंडी पहुंचा और दस्ताावेजो की जांच शुरू की। डीडीओ मंडी बोर्ड प्रवीण वर्मा ने बताया कि अधिक मात्रा में खरीदी होना संदेह पैदा करता है, जिसकी शिकायतें हुई है। पूरी प्याज खरीदी की जांच की जा रही है। निरिक्षण के दौरान अपर कलेक्टर जीएस डाबर, डिप्टी डारेक्टर एके नेता, जिला अधिकारी नान, हार्टीकल्चर अधिकारी, मंडी सचिव एवं नरहरि तिवारी उपस्थित रहे।
मुख्यमंत्री प्याज प्रोत्साहन योजना में कोई भी गड़बड़ी नहीं हुई है। कुछ लोग अफवाह फैलाकर झूठी शिकायत कर रहे हैं। शासन के नियमानुसार पंजीकृत किसानों की प्याज नीलामी व्यवस्था से व्यापारियों ने खरीदी है। जहां तक सीसीटीवी कैमरे खराब होने की बात है तो वह 26 जून को मुख्यमंत्री कन्यादान योजना के कार्यक्रम के दौरान भारी बारिश, आंधी-तूफान के कारण खराब हो गए थे। सभी कैमरों को ठीक करवा दिया गया है।
संतोष दुबे, मंडी सचिव देवरी

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned