रात में जिसने पीटा था जैसे ही ठेके पर नजर आया नशे में धुत ट्रैक्टर चालक ने पत्थर से कुचलकर मार डाला

रजाखेड़ी देशी ठेके के सामने वारदात से फैली सनसनी, मंगलवार रात में नशे की हालत में मृतक ने की थी मारपीट

सागर. शराब में शराब ठेके पर रात में हुई मारपीट का बदला रजाखेड़ी निवासी ट्रैक्टर चालक ने बुधवार सुबह ले लिया। ठेके पर जैसे ही ट्रैक्टर चालक का मारपीट करने वाले व्यक्ति से आमना-सामना हुआ उसका खून खौल गया। नशे की हालत में उसने सड़क से पत्थर उठाकर हमला कर दिया और मौत के घाट उतार दिया। शराब ठेके के सामने सरेराह हुई हत्या के बाद ठेके का शटर गिरा दिया गया। मौके पर पहुंची मकरोनिया थाने की एफआरवी ने खून से लथपथ हालत में जख्मी व्यक्ति को जिला अस्पताल पहुंचाया जहां डॉक्टर ने उसे मृत घोषित कर दिया। मौत की पुष्टि होते ही पुलिस ने हमलावर को नशे में धुत हालत में मकरोनिया चौराहे से दबोच लिया।

मकरोनिया टीआइ उपमा सिंह के अनुसार थाने को बुधवार सुबह 11.30 बजे रजाखेड़ी स्थित शराब ठेके के सामने दो लोगों में झगड़े की खबर लगी थी। डायल-100 वाहन और पुलिस से टीम जब पहुंची एक व्यक्ति खून से लथपथ हालत में ठेके के सामने पड़ा था। पुलिस ने लोगों को हटाकर जख्मी व्यक्ति को जिला अस्पताल पहुंचाया लेकिन तब तक उसकी सांस थम चुकी थी। मृतक की पहचान शंकरगढ़ निवासी विजय उर्फ ब्रजेश गुप्ता के रूप में होने पर पुलिस ने परिजनों तक खबर भेजकर उन्हें अस्पताल बुलाया।

उधर पुलिस ने घेराबंदी की और रजाखेड़ी निवासी गुड्डू उर्फ गजनी उर्फ सतीश यादव को भागने से पहले ही गिरफ्तार कर लिया। पूछताछ में गुड्डू उर्फ गजनी ने बताया कि रात में शराब ठेके पर वह विजय के साथ शराब पी रहा था तब विजय ने बिना बात के उसे थप्पड़ मार दिए थे। सबके साथ पिटाई से वह दुखी था। बुधवार सुबह जब वह शराब ठेके पर पहुंचा विजय भी तभी वहां आ गया। नशे की हालत में आमना-सामना होते ही उनमें कहासुनी हुई तो वह आपा खो बैठा और सड़क किनारे पड़ा पत्थर उठाकर विजय का सिर फोड़ दिया। विजय के सड़क पर गिरने पर उसे घायल समझकर वह चला गया था।

पुलिस के के अनुसार विजय उर्फ ब्रजेश गुप्ता आर्थिक रूप से कमजोर लोगों को ब्याज पर रुपए उधार देता था। समय पर रुपए न लौटा पाने पर उनसे तगड़ा ब्याज वसूलता था। जब कोई रुपए न दे पाता तो वह सार्वजनिक रूप से प्रताडि़त भी करता था। पुलिस की निगरानी बदमाशों की सूची में भी विजय का नाम जुड़ा हुआ है। जबकि सतीश यादव ट्रेक्टर चलाता है। हमलावर और मृतक लंबे अरसे से एक-दूसरे को जानते थे लेकिन नशे ने एक की जान ले ली जबकि दूसरे को सलाखों के पीछे पहुंचा दिया।

संजय शर्मा
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned