ट्रेनों का संचालन शुरू, सात माह में भी नहीं बन सका एफओबी

जर्जर हो चुके एफओबी पर लोड बढऩे से हो सकती है घटना

By: anuj hazari

Published: 16 Oct 2020, 10:29 AM IST

बीना. बुकिंग ऑफिस से प्लेटफॉर्म तक पहुंचाने वाला एफओबी जर्जर हो चुका है, जिसके कारण यह कभी भी ढह सकता है। इसके जर्जर होने के कारण दूसरे एफओबी का निर्माण किया जा रहा है, लेकिन काम धीमी गति से होने के कारण वह सात माह बाद भी बनकर तैयार नहीं हो सका है। जिसके कारण अब घटना होने का डर है, क्योंकि लॉकडाउन के बाद ट्रेनों का संचालन शुरू हो चुका है और लोगों का आना-जाना भी बढ़ गया है। गौरतलब है कि मुंबई में एफओबी पर हुए हादसे के बाद रेल प्रशासन की नींद खुली थी, जिसके बाद एफओबी को साधने के लिए नीचे से सहारे के लिए एंगल लगाए गए थे। इसके बाद डीआरएम ने निरीक्षण करके जल्द से जल्द एफओबी बनाने का आदेश दिया था। रेलवे ने एफओबी का निर्माण कार्य शुरू किया था, लेकिन काम शुरू होते ही 22 मार्च से लॉकडाउन शुरू हो गया था और करीब डेढ़ महीने तक काम बंद रहा, लेकिन उसके बाद से काम शुरू होने के बाद काम इतनी धीमी गति से किया जा रहा है कि अभी तीन से चार महीने और लग सकते हैं।


लोड बढऩे से हो सकती है घटना
दरअसल अनलॉक में ट्रेनों का संचालन धीरे-धीरे शुरू हो गया है। इस स्थिति में यदि काम को समय पर पूरा नहीं किया गया तो लोगों की आवाजाही के बाद एफओबी ढह भी सकता है। इसलिए जरूरी है कि एफओबी को सभी ट्रेनें शुरू होने से पहले बनाकर तैयार कर लिया जाए। नहीं तो बड़ी घटना होने से इंकार नहीं किया जा सकता है।


मेंटेनेंस भी नहीं किया गया
नए एफओबी के बनाए जाने के कारण पुराने एफओबी का ट्रेनें बंद होने के कारण मेंटेनेंस भी नहीं किया गया है, जिसके कारण स्थिति और भी ज्यादा खराब हो गई है। इसलिए अधिकारियों को पहली प्राथमिकता देकर जल्द से जल्द एफओबी बनाने का काम कराना आवश्यक हो गया है।

anuj hazari Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned