कहीं डाक नहीं लगी तो कहीं से केंद्र प्रबंधक गायब

मंगलवार को शेष बची करीब ७० ट्रॉलियों की बुधवार को अवकाश
के दिन होगी डाक।

By: manish Dubesy

Published: 10 Apr 2019, 02:32 PM IST

सागर. कृषि उपज मंडी में इन दिनों अनाज की बंपर आवक हो रही है। हर दिन यहां पर आसपास के गांवों से ५०० से ६०० वाहन किसानों का अनाज लेकर मंडी पहुंच रहे हैं। लगातार हो रही सैकड़ों वाहनों की आवक के कारण हालात यह बन चुके हैं कि पूरे दिन नीलामी प्रक्रिया जारी रहने के बाद भी किसानों को मंडी में ही रात गुजारनी पड़ रही है। एेसा ही हाल मंगलवार को भी हुआ, जब मंडी में करीब साढ़े पांच सौ वाहन किसानों की उपज लेकर मंडी पहुंचे। इसके अलावा साढ़े तीन सौ से वाहन प्याज के भी मंडी पहुंचे थे। सुबह १० बजे से शुरू हुई नीलामी प्रक्रिया शाम पांच बजे तक जारी रही, लेकिन इसके बाद भी करीब ७० वाहनों की नीलामी हो रही नहीं सकी। मंडी सचिव एके ताम्रकार ने बताया कि मंगलवार को डांक होने के बाद शेष बचे करीब ७० वाहनों की डांक बुधवार को होगी, लेकिन इसके बाद नए वाहनों को डांक में शामिल नहीं किया जाएगा, क्योंकि बुधवार को मंडी बंद रहती है।
सागर. समर्थन मूल्य पर गेहूं की खरीदी अभी तक वैसे भी सभी केंद्रों पर शुरू नहीं हो सकी थी, कि प्रशासन के सामने एक नई मुसीबत आ गई है। जिला आपूर्ति नियंत्रक राजेंद्र वायकर ने बताया कि मालथौन केंद्र का प्रभारी अचानक से गायब हो गया है, जिसके कारण वहां पर अब तक खरीदी ही शुरू नहीं हो सकी है। इसके अलावा बिकौरकलां केंद्र पर भी अब तक खरीदी शुरू नहीं हो सकी है। वायकर ने बताया कि अब तक जिले में स्थापित किए गए कुल १२१ केंद्रों में से ११९ पर खरीदी शुरू
हो चुकी है और मंगलवार शाम तक १.१३ लाख क्विंटल गेहूं की खरीदी हो चुकी थी।

 

 

 

 

 

 

 

manish Dubesy Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned