टीचर्स के इंतजार में खड़े रहते हैं बच्चे, अपडाउन की परंपरा से परेशानी

टीचर्स के इंतजार में खड़े रहते हैं बच्चे, अपडाउन की परंपरा से परेशानी

By: manish Dubesy

Updated: 07 Jan 2019, 03:01 PM IST

बांदरी. मालथौन ब्लॉक के ग्रामीण क्षेत्र में शिक्षा व्यवस्था बदहाल होती जा रही है। न समय पर शिक्षक पहुंच रहे हैं न कोर्स पूरा हो पा रहा है।
ब्लॉक के नेतना, पहरगुवां, इमलिया खुर्द, पिथोली, मुडिया गुसाई की शासकीय प्राथमिक व माध्यमिक शालाओं में शिक्षक समय पर नहीं ंंपहुंचते हैं। शिक्षक बांदरी व सागर से अप-डाउन करते हैं। शिक्षक बसों का समय मिलाने के चक्कर में स्कूल की छुट्टी कर जल्दी ताला लगाकर चले जाते हैं। शनिवार को जब नेतना, पहरगुवां, इमलिया खुर्द जाकर स्कूलों को देखा तो छात्र छात्राएं तो समय पर पहुंच गई थीं, लेकिन स्कूल बंद होने से स्कूल के बाहर शिक्षक का इंतजार कर रही थीं। लगभग रोजाना ही यही हाल रहता है। नेतना की प्राथमिक शाला में 10.50 बजे एक छात्र झाडू लगा रहा था। अतिथि शिक्षक ने बताया कि आरती खरे अभी नहीं आईं हैं। बच्चों ने बताया कि मैडम लेट आती हैं। शासकीय प्राथमिक शाला पहरगुवां में लगभग ११ बजे ताला लगा था। छात्र छात्राएं बाहर शिक्षक का इंतजार कर रही थीं। ग्राम के लक्ष्मन सिंह, मकुन्द्र सिंह, गोविन्द्र सिंह ने बताया कि शिक्षक १२ बजे आते हैं और तीन बजे स्कूल बंद कर चले जाते हैं। माध्यमिक शाला इमलिया खुर्द में 11.20 बजे विद्यार्थी अपनी क्लास में शालीनता से बैठे थे, लेकिन ऑफिस में ताला लगा था व कोई शिक्षक उपस्थित नहीं था। प्रधान अघ्यापक राखी खटीक ने कहा कि हम रोज समय पर स्कूल आते है आज रास्ते में गाड़ी पंचर हो गई थीं, इसलिए लेट हो गई।
वेतन काटने की कार्रवाई की जाएगी
बीईओ सुरेन्द्र सिंह ठाकुर के अनपुसार जांच कराकर एक दिन वेतन काटने की कार्रवाई की जाएगी। उधर, ग्रामीणों ने बताया कि मालथौन जनपद शिक्षा केन्द्र में बीईओ, बीआरसी, बीएसी, जन शिक्षक व अन्य अफसर कभी जांच करने नहीं आते। इस समय बीईओ, बीआरसी के दोनों पद सुरेन्द्र सिंह ठाकुर के पास हैं।

manish Dubesy Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned