यहां उज्ज्वला योजना में हितग्राहियों से लाइटर के नाम पर ले रहे रुपए

यहां उज्ज्वला  योजना में हितग्राहियों से लाइटर के नाम पर ले रहे रुपए

sachendra tiwari | Publish: Sep, 06 2018 11:00:00 AM (IST) Sagar, Madhya Pradesh, India

शिकायत के बाद पहुंचे विधायक, दिए जांच के निर्देश

बीना. शासन द्वारा गरीब लोगों को धुआं से मुक्ति दिलाने के लिए उज्ज्वला योजना की शुरुआत की गई है, लेकिन गैस एजेंसी संचालकों द्वारा इसमें भी हितग्राहियों से रुपए वसूले जा रहे हैं। ऐसा ही एक मामला एचपी गैस एजेंसी का सामने आया है। जिसकी शिकायत महिला हितग्राहियों ने विधायक से की है।
बुधवार को उज्ज्वला योजना का कनेक्शन लेने पहुंची भिलावली निवासी रामदेवी से गैस एजेंसी पर मौजूद कर्मचारियों ने दो सौ रुपए लाइटर के लिए मांगे और लाइटर की राशि देने पर ही कनेक्शन देने की बात कही। महिला इसकी शिकायत लेकर विधायक महेश राय के पास पहुंची। शिकायत मिलने के बाद विधायक एजेंसी के कार्यालय पहुंचे और कर्मचारियों से बात की तो वह जवाब नहीं दे पाए। इसके बाद विधायक ने खाद्य निरीक्षक को जांच के निर्देश दिए हैं। एजेंसी पर कनेक्शन लेने के लिए नीलम अहिरवार, गीता सहित अन्य हितग्राही भी मौजूद थे। इस संबंध में खाद्य निरीक्षक अमित चौहान ने बताया कि अभी छुट्टी पर हूं, शिकायत मिली है जांच करने के बाद ही कुछ बता पाएंगे। गौरतलब है कि गैस एजेंसी संचालकों को योजना में ज्यादा लाभ न होने के कारण वह हितग्राहियों से रुपए वसूलते हैं और हितग्राही योजना का लाभ लेने के चक्कर में रुपए देकर भी चले जाते हैं।
नहीं है ऐसा नियम
इस संबंध में दूसरी एजेंसी संचालकों से बात की तो उनका कहना था कि कनेक्शन के साथ रुपए लेकर कोई भी सामान देना अनिवार्यनहीं है। यदि हितग्राही स्वेच्छा से कोई सामान लेता है तो वह ले सकता है। जबरन लाइटर या अन्य सामान देना गलत है।
जबरन नहीं देते लाइटर
एजेंसी में दो प्रकार के लाइटर है, जिसमें एक गैस वाला लाइटर दो सौ रुपए का है और जो ग्राहक लाइटर मांगता है उसी को देते हैं। जबरन किसी भी हितग्राही को लाइटर नहीं दिया जाता है।
बाबा संतलाल, मैनेजर, गैस एजेंसी

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned