वेयरहाउस में लगाए गए जाली वाले गेट, यह है कारण

कुछ माह पहले ही लगाए गए हैं गेट

By: sachendra tiwari

Published: 10 Apr 2019, 09:30 AM IST

बीना. बिहरना स्थित वेयरहाउस में कुछ महिनों पूर्व सभी शटरों पर जालियां लगाई गईं, जिससे वहां रखे अनाज तक ज्यादा से ज्यादा हवा पहुंचे और नमी बढऩे से वजन बढ़ सके। क्योंकि नागरिक आपूर्ति निगम द्वारा जमा किए जाने वाले अनाज पर एक प्रतिशत ज्यादा वजन देना पड़ता है। ऐसा न करने पर किराए में कटौती कर दी जाती है।
मिली जानकारी के अनुसार वेयरहाउस किराए पर नागरिक आपूर्ति निगम द्वारा अनाज रखा जाता है, जिसमें शर्त रहती हैकि जब वह वेयरहाउस से अनाज उठाएंगे तो एक प्रतिशत ज्यादा वजन उनको मिलना चाहिए। इसेक लिए अनाज में नमी बढ़ानी पड़ती है और नमी बढ़ाने के लिए वेयरहाउस के अंदर तक हवा पहुंचाना जरूरी होता है। इसके लिए अब यहां शटर के बाहर लोहे की जालियां लगाई गई हैं, जिससे ज्यादा से ज्यादा समय तक शटर खुले रह सके और हवा अंदर पहुंचे। यदि नान को वजन कम मिलता है तो किराए में कटौती कर दी जाती है और वेयरहाउस कॉर्पोशन मैनेजरों के पीएफ से रुपए काटलेते हैं। पीएफ से राशि कटने के कारण सेवानिवृत्त होने के बाद कर्मचारियों को परेशान होना पड़ता है। इसके बाद भी इस व्यवस्था में सुधार नहीं किया जा रहा है।
जाली लगने से बढ़ी सुरक्षा
जाली लगने से वेयरहाउस के अंदर हवा तो जाएगी ही, इससे सुरक्षा व्यवस्था भी बढ़ गई है। क्योंकि पहले दो बार बिहरना वेयरहाउस से शटर तोड़कर चोरी का प्रयास किया जा चुका है। अब शटर के पहले जाली लगने के बाद यहां कोईचोरी का प्रयास भी कोई नहीं कर पाएगा।
इनका कहना है
वेयरहाउस में नान के अनाज को किराए से रखा जाता है और अनाज उठाते समय अनाज का एक प्रतिशत वजन बढ़ाकर दिया जाता है। इसके लिए नमी बढ़ानी पड़ती है और अब यहां जालियां लगवाईगईं हैं। जाली लगने से सुरक्षा भी बढ़ेगी।
एमके पालिया, मैनेजर, वेयरहाउस बिहरना

sachendra tiwari Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned