जब दुकानों पर सोशल डिस्टेंस रखकर खरीदा जा सकता है सामान तो भगवान के दर्शन क्यों नहीं हो सकते

धर्म गुरूओं के साथ आमजन ने की मंदिर खोलने की मांग

By: anuj hazari

Published: 28 May 2020, 09:15 AM IST

बीना. दो महीने से भी ज्यादा वक्त से मंदिरों के पट आमजन के लिए बंद हैं। जहां लोग भगवान के दर्शन भी नहीं कर पा रहे हैं तो वहीं दूसरी ओर पुजारी भी आर्थिक तंगी से गुजर रहे हैं। लोगों ने सरकार से गुहार लगाई है कि जल्द से जल्द मंदिरों के पट आमजन के लिए खोले जाएं, ताकि लोग भगवान की पूजा-अर्चना कर सकें। लोगों ने मांग की है जिस प्रकार से लोग दुकानों, बैंकों सहित रेलवे तक में सोशल डिस्टेंस का पालन करके यात्रा कर सकते हैं तो मंदिरों में भी सोशल डिस्टेंस के साथ आमजन को दर्शन के लिए खोलने का आदेश दिया जाए। लोगों ने प्रसिद्ध बड़े मंदिरों को छोड़कर अन्य मंदिरों को खोलने की अनुमति देने की मांग की है। घर से पूजा करने के बाद भी लोगों की आस्था है कि भगवान के दर्शन मंदिर में किए जा सकें। मंगलवार को न तो लोग हनुमान मंदिरों में दर्शन कर पा रहे हैं न ही कई बड़े त्योहारों पर लोग भगवान की पूजा अर्चना कर सके। इसके अलावा जो पुजारी केवल मंदिर से जुड़े हैं और उसी से परिवार का भरण पोषण हो रहा है उन्हें सबसे ज्यादा परेशानी हो रही है। पं. प्रेमनारायण शास्त्री ने बताया कि दो महीना से मंदिर आमजन के लिए बंद हैं तो वहीं लोगों के घर जाकर कथा आदि पूजन भी नहीं हो रहे हैं, जिससे आर्थिक तंगी से पुजारियों को गुजरना पड़ रहा है। चूंकि बड़े मंदिरों में भीड़ जमा हो सकती है इसलिए उन्हें कुछ समय के अंतराल से खोल दिया जाए।

anuj hazari Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned