सूरज और बादलों की हुई लुकाछिपी, रात का पारा उछला

अरब सागर से एक बार फिर नमी आने से जिले के मौसम पर इसका असर पड़ा है। सागर में जनवरी में इस सीजन में रात का पारे में रिकॉर्ड बढ़ोतरी हुई है। सुबह से ही कोहरा और धुंध का मिला-जुला असर दिखाई दे रहा है।

By: Atul sharma

Published: 04 Jan 2021, 09:40 PM IST

सागर.अरब सागर से एक बार फिर नमी आने से जिले के मौसम पर इसका असर पड़ा है। सागर में जनवरी में इस सीजन में रात का पारे में रिकॉर्ड बढ़ोतरी हुई है। सुबह से ही कोहरा और धुंध का मिला-जुला असर दिखाई दे रहा है। अभी इसी तरह दो-तीन दिन मौसम रहेगा। दिन के तापमान में करीब एक डिग्री तक की गिरावट दर्ज की जा सकती है। इसके चलते दिन और रात के तापमान में महज 10 डिग्री का ही अंतर रह गया। सोमवार को अधिकतम तापमान सामान्य से एक डिग्री अधिक 25.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। न्यूनतम तापमान सामान्य से ४ डिग्री अधिक 15.8 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।

मौसम व दक्षिणी-पश्चिमी राजस्थान में चक्रवात बनने से अरब सागर से नमी आने लगी है। इसके कारण बादल होने से गर्मी बढ़ गई है। बादल छाने से दिनभर की गर्मी ऊपरी वायुमंडल में वापस नहीं जा पाती है।

क्यों हो रही बारिश
मौसम वैज्ञानिकों का मानना है कि अफगानिस्तान के पास शक्तिशाली पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय है । इस वजह से अरब सागर से लेकर राजस्थान तक एक द्रोणिका लाइन (ट्रफ) बना हुआ है. लिहाजा मौसम का मिजाज बिगड़ा है और मध्य प्रदेश में बारिश की स्थिति बनी है ।

Atul sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned