सागर. कोरोनावायरस को लेकर घोषित हुए लॉक डाउन में आमजन तो घरों में सुरक्षित बैठे हैं, लेकिन काम की तलाश में घरों से दूर मजदूर परिवारों की स्थिति दयनीय हो गई है। शनिवार दोपहर बहेरिया चौराहे के पास पैदल जाते मजदूरों से जब बात की तो उन्होंने बताया कि वह कुछ माह पहले मकरोनिया में चल रहे बिल्डिंग वर्क के लिए सागर आए थे। लॉक डाउन होने के बाद से उनका ठेकेदार गायब है और अब उन्हें खाने के लाले पड़ चुके हैं। टोली में शामिल महिलाएं बच्चे अपने सिर पर घर-गृहस्ती का सामान लादे हुए थे तो परिवार के अन्य सदस्य छोटे-छोटे बच्चों को साइकिल पर बैठा कर पैदल सफर कर रहे थे। मजदूरों को यह भी पता नहीं था कि वह पैदल चलकर कितने दिन बाद अपने घर पहुंचेंगे, लेकिन उनका कहना था कि यहां रहे तो शायद भूखे मर जाएंगे। रास्ते चलते कुछ व्यवस्था करेंगे और कुछ दिन में अपने घर पहुंच जाएंगे।

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned