कराेड़ाें के घाेटाले में काे-अॉपरेटिव बैंक प्रबंधक व महिला लिपिक समेत 4 गिरफ्तार

Iftekhar Ahmed

Publish: Oct, 12 2017 10:16:58 (IST)

Saharanpur, Uttar Pradesh, India
कराेड़ाें के घाेटाले में काे-अॉपरेटिव बैंक प्रबंधक व महिला लिपिक समेत 4 गिरफ्तार

बैंक के महाप्रबंधक ने कराई थी काेतवाली नगर में एफआईआर

सहारनपुर। जिले के काेअॉपरेटिव बैंक में कराेड़ों के फर्जीवाड़े में पुलिस ने बैंक के तत्कालीन प्रबंधक आैर एक महिला लिपिक समेत चार कर्मचारियाें काे गिरफ्तार किया है। चाराें काे मजिस्ट्रेट के समक्ष पेश किया गया, जहां से उन्हे न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया। खास बात यह है कि गिरफ्तार महिला सैनी समाज के प्रदेश स्तर के नेता की पत्नी बताई जा रही है। इस गिरफ्तारी के बाद काेतवाली नगर में देर शाम तक सिफारिशाें का दाैर चला, लेकिन पुलिस ने इन्हें जेल भेजने में देर नहीं लगाई।

आरुषि-हेमराज हत्याकांड: तलवार दंपती की रिहाई पर पड़ोसियों ने ऐसी दी प्रतिक्रिया

गिरफ्तार महिला लिपिक के पति का शुक्रवार को हाेना है जिले में जाेरदार स्वागत
बताया जाता है कि कराेड़ाें के घाेटालाें में लिप्त हाेने के आराेपाें में पुलिस ने जिस महिला लिपिक वंदना सैनी काे गिरफ्तार किया है, उसके पति संदीप सैनी कल यानी शुक्रवार को लखनऊ से सहारनपुर पहुंच रहे हैं। संदीप सैनी काे अखिल भारतीय माैर्य महासभा का प्रदेश अध्यक्ष बनाया गया है। प्रदेश अध्यक्ष बनने के बाद वह पहली बार सहारनपुर लाैट रहे हैं। पिछले दाे दिनाें से उनके सहारनपुर पहुंचने पर स्वागत की तैयारियां चल रही हैं। संदीप सैनी के सहारनपुर पहुंचने से कुछ ही देर पहलेे पुलिस ने इनकी पत्नी वंदना सैनी काे कराेड़ाें के घाैटालाें के आराेपाें में गिरफ्तार किया है।

सुप्रीम कोर्ट का फैसला बेअसर: NCR में पटाखों की ऑनलाइन हो रही होम डिलीवरी

कराेड़ाें रुपयाें का इस तरह से किया गया घोटाला
काे-अॉपरेटिव बैंक में फर्जी एफडी की रसीदें दिखाकर उन पर लाखाें कराेड़ाें रुपए के फर्जी लाेन पास किए गए। इस तरह कराेड़ाें रुपए का घाैटाला कर दिया। बाद में जब यह मामला खुला ताे बैंक के महाप्रबंधक की आेर से आराेपी प्रबंधक आैर बैंककर्मचारियाें के खिलाफ रिपाेर्ट दर्ज कराई गई। पुलिस की माने ताे इस मामले में हुई अभी तक की जांच में करीब सात कराेड़ रुपए का घाैटाला सामने आया है। पर्याप्त सबूत मिलने के बाद पुलिस ने तत्कालीन बैंक प्रबंधक आदित्य कुमार वर्मा के अलावा कैशियर श्याम कुमार, लिपिक अतुल कुमार आैर महिला लिपिक वंदना सैनी काे गिरफ्तार कर लिया।

जुलाई माह में दर्ज कराई गई थी रिपाेर्ट
लगातार घाटे में जा रहे काे-अॉपरेटिव बैंक में जब फर्जी रसीदें सामने आई ताे महाप्रबंधक एेके सिंह ने 7 जुलाई काे इस काेतवाली नगर थाने में रिपाेर्ट दर्ज कराई थी। इस मामले में बैंक के स्तर से आराेपी कर्मचारियाें पर विभागीय कार्रवाई पहले ही कर दी गई थी। अब पुलिस जांच में घोटाला उजागर हाेने पर पुलिस ने इनकी गिरफ्तारी भी कर ली है।

 

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned