समीक्षा बैठक में फिसड्डी निकला स्वास्थय विभाग ताे प्राक्कलन समिति ने सीएमआे काे दी ये चेतावनी

पांच विभागाें की समीक्षा के दाैरान जब स्वास्थ्य विभाग की याेजनाएँ मिली फिसड्डी ताे प्राक्कलन समिति ने किया अस्पताल का आैचक निरीक्षण, हुआ ये खुलासा

By: shivmani tyagi

Updated: 20 Jan 2019, 09:03 AM IST

सहारनपुर। प्राक्कलन समिति ने शनिवार काे सहारनपुर में प्रशासनिक अधिकारियाें के साथ समीक्षा बैठक के बाद जिला अस्पताल का आैचक निरीक्षण किया। इस दाैरान यह बात सामने आई कि अस्पताल में अभी भी सरकारी याेजनाआें का लाभ अंतिम पात्र तक नहीं पहुंच रहा है आैर सुविधाआें के बदले शुल्क की मांग भी की जाती है। सफाई व्यवस्था भी अच्छी नहीं है आैर सामान्य सुविधाआें का भी बुरा हाल है। यह पाेल खुलने पर अब समिति ने सीएमआे काे चेतावनी दी है कि व्यवस्थाआें में सुधार कर लें, यदि सुधार नहीं हुआ आैर दाेबारा शिकायत मिली ताे कड़ी कार्रवाई ही जाएगी।


सहारनपुर पहुंची प्राक्कलन सिमित की उप समिति के अध्यक्ष आैर विधायक ज्ञानेंद्र सिंह ने पत्रिका के साथ विशेष बातचीत के दाैरान बताया कि पिछले तीन दिनाें से अलग-अलग जिलाें में प्राक्कलन समिति निरीक्षण कर रही है आैर इसी कड़ी में आज सहारनपुर में निरीक्षण किया गया है। पांच विभागाें की समीक्षा की जा रही है। इनमें लाेक निर्माण विभाग, उर्जा, परिवहन, खाद रसद आैर स्वास्थ्य परिवार कल्याण विभागाें की समीक्षा हाे रही है। इसका उद्देश्य यही है कि सरकार की याेजनाआें का क्रियान्वयन किस तरह से किया जा रहा है, सही हाे रहा है या नहीं। इसके लिए अलग-अलग विभागाें में जाकर लाेगाें से बात की गई है। स्वास्थ्य विभाग में कुछ शिकायतें मिली हैं जिसके लिए सीएमआे काे चेताया गया है।

टॉयलेट देख हैरान रह गए कमेटी सदस्य

कमेटी के सदस्याें ने अस्पताल के टॉयलेट काे देखकर नाराजगी जताई आैर सीएमआे काे साफ कह दिया यदि आपकाे भी इस टॉयलेट में जाना पड़े ताे आपकाे अपने अस्पताल की व्यवस्थाआें का पता चलेगा। दरअसल यहां टॉयलेट में हाथ धाेने की व्यवस्था ही नहीं थी। इसी तरह से जब रैन बसेरे का हाल देखा ताे समिति ने सीएमआे से पूछा कि यदि आपकाे यहां एक रात साेना पड़ जाए ताे क्या हाेगा ?

 

निरीक्षण के दाैरान स्ट्रेचर पर चादर देख हैरान रह गए विधायक

जिला अस्पताल में निरीक्षण की तैयारियां पहले ही कर ली गई थी। जिस जिला अस्पताल के स्ट्रेचर में पहिए तक नहीं मिलते आज उसी अस्पताल की एमरजेंसी के बाहर रखे गए स्ट्रेचर पर सफेद धुली हुई चादरें बिछी हई थी। इस पर विधायक से रहा नहीं गया आैर उन्हाेंने पूछ ही लिया अरे वाह क्या बात है ? ये स्ट्रेचर पर चादर क्याें बिछा रखी है। इस पर अस्पतालकर्मियाें ने बताया कि स्ट्रेचर ठंडा हाे जाता है इसलिए चादर बिछाते हैं। जब विधायक ने पूछा कि केवल आज ही चादर बिछाई गई है क्या ? ताे इस सवाल पर सीएमएस ताे खामाेश हाे गए लेकिन अस्पतालकर्मियाें ने कहा कि, साहब राेजाना यही व्यवस्था रहती है। निरीक्षण के दाैरान, प्राक्कलन समिति काे यह भी शिकायत मिली है महिला अस्पताल में डिलीवरी के बदले सुविधा शुल्क मांगा जाता है।

 

समिति में ये रहे शामिल

प्राक्कलन समिति की सहारनपुर पहुंची उप समिति में विधायक ज्ञानेंद्र सिंह, विधायक प्रदीप चाैधरी, विधायक मसूद अख्तर आैर विधायक राकेश प्रताप के अलावा विधायक देवेंद्र निम व विधायक वीरेंद्र सिंह शामिल थे।

BJP
shivmani tyagi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned