सहारनपुर में कार-ट्रक की भिड़ंत में कार चला रहे बीडीएस के छात्र की माैत

यह दुर्घटना सहारनपुर-मुजफ्फऱरनगर हाईवे पर हुई। दुर्घटना में बागपत के एक डॉक्टर का बेटा जाे बीडीएस की पढ़ाई कर रहा था उसकी माैके पर ही माैत हाे गई।

By: shivmani tyagi

Updated: 09 Oct 2020, 08:27 PM IST

सहारनपुर ( Saharanpur ) देवबद-सहारनपुर हाइवे पर हुई कार और ट्रक भी टक्कर में बीडीएस के एक छात्र की माैत हाे गई जाे अपने परिवार का इकलाैता चिराग था। बागपत के डॉक्टर का बेटा बीडीएस की पढ़ाई कर रहा था। छात्र की मां पहले सपा में रह चुकी हैं। इस दुर्घटना के बाद से परिवार में काेहराम मचा हुआ है।

यह भी पढ़ें: 'भारत माता की जय' का नारा लगा युवक ने धमेंद्र यादव पर फेंकी काली स्याही

डॉक्टर राकेश खत्री का बागपत ( Bagpat ) में देहली नर्सिंग हाेम के नाम से क्लीनिक है। इनका बेटा प्रतीक खत्री नाेएडा ( noida ) के एक प्राईवेट इंस्टीट्यूट से बीडीएस ( BDS ) की पढ़ाई कर रहा था। बताया जा रहा है कि प्रतीक किसी कार्य से नाेएडा से चलकर देहरादून जा रहा था। इसी बीच रास्ते में देवबंद ( Deoband ) थाना क्षेत्र में साखन खुर्द के पास इसकी कार डिवाइडर से टकरा गई और सामने सा रहे एक ट्रक की चपेट में आ गई।

यह भी पढ़ें: हाथरस से बाद अब ग्रेटर नोएडा में भी गैंगरेप, 7वीं की छात्रा के साथ दरिंदगी

टक्कर इतनी भयंकर थी कि प्रतीक बुरी तरह से क्षतिग्रस्त कार में फंस गया। सूचना पर पहुंची पुलिस ने किसी तरह से उसके शव काे कार से बाहर निकाला और अस्पताल लेकर पहुंची लेकिन तब तक काफी देर हो चुकी थी। चिकित्सकों ने प्रतीक काे मृत घाेषित कर दिया। बेटे की माैत की खबर सुनकर डॉक्टर के घर में काेहराम मच गया। डॉक्टर ने बिना किसी कानूनी कार्यवाही के बेटे के शव का अंतिम संस्कार कर दिया। प्रतीक अपने घर में अकेला चिराग था उसकी माैत के बाद से माता-पिता का राे-राेकर बुरा है।

Show More
shivmani tyagi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned