भीम आर्मी का ऐलान,अब खड़ी करेगा BASF की फौज

  • भीम आर्मी ने बनाया अपना स्टूडेंट विंग
  • छात्रसंघ के जरिए दलित युवाओं को जागरूक करना- चंद्रशेखर
  • 'बीएएसएफ अनुसरण करने के बजाय नेता तैयार करेगा'

By: Ashutosh Pathak

Updated: 20 Aug 2019, 02:18 PM IST

सहारनपुर। बसपा के बाद दलितों की हितैषी बन कर खड़ी हुई भीम आर्मी ने अब युवाओं के बीच अपनी पैठ बनाने के लिए भी तैयारी कर ली है। इसके लिए भीम आर्मी ने अपनी छात्र इकाई (स्टूडेंट विंग) की स्थापना की है। वहीं भीम आर्मी के प्रमुख चंद्रशेखर ने ऐलान करते हुए कहा कि भीम आर्मी के स्टूडेंट विंग का नाम भीम आर्मी स्टूडेंट फेडरेशन ( बीएएसएफ ) होगा। यह संगठन कई विश्वविद्यालयों में छात्र संघ का चुनाव भी लड़ेगा।

भीम आर्मी के प्रमुख चंद्रशेखर ने कहा कि छात्रसंघ के जरिये एससी/एसटी, ओबीसी और अल्पसंख्यक युवाओं में उनके अधिकारों और कर्तव्यों के प्रति जागरूकता पैदा करना है। उन्होंने कहा, "युवा देश का भविष्य हैं और हमें उन्हें सशक्त बनाने की आवश्यकता है।" चंद्रशेखर ने कहा कि इन वर्गो से संबंधित छात्रों से अधिक शुल्क का भुगतान करने के लिए कहा जा रहा है। इसके अलावा उन्हें परिसर में भी प्रताड़ना झेलनी पड़ती है। लेकिन बीएएसएफ युवाओं को अनुसरण करने के बजाय नेता बनने के लिए तैयार करेगा। साथ ही यह राष्ट्र के प्रति उनके कर्तव्यों को भी परिभाषित करेगा।"

ये भी पढ़ें : गुरु रविदास का मंदिर तोड़े जाने पर दलितों में उबाल, भीम आर्मी और ब्लू पैंथर मिलकर करेंगे ये काम, देखें वीडियो

चंद्रशेखर ने कहा कि बीएएसएफ को पुणे, महाराष्ट्र सहित अन्य सभी राज्यों में भी लांच किया जाएगा। एक सवाल का जवाब देते हुए भीम आर्मी के नेता ने कहा कि पहले दलित छात्रों के लिए 630 करोड़ रुपये की राशि निर्धारित की गई थी जो अब घटकर 283 करोड़ रुपये हो गई है। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश में 2022 के विधानसभा चुनाव में युवा हालात को बदलने की भूमिका के तौर पर उभरेंगे।

ये भी पढ़ें : भाई की हत्या करने के बाद शख्स ने एक और बड़ी वारदात को दिया अंजाम, पुलिस ने किया गिरफ्तार

Show More
Ashutosh Pathak
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned