भाजपा जिलाध्यक्ष के पास आया फोन, 'हैलो, मैं केंद्रीय मंत्री का पीए बोल रहा हूं'

खुद को मंत्री का पीए बताने वाले शख्स का यह रवैया जब भाजपा जिलाध्यक्ष को अजीब लगा तो उन्होंने इस फोन कॉल की संबंधित मंत्रालय से पुष्टि की।

By: Rahul Chauhan

Published: 20 Jul 2018, 10:54 AM IST

सहारनपुर। ‘मैं केंद्रीय मंत्री का पीए बोल रहा हूं, जहां आप गए थे, वहां प्रधान पक्ष अपना आदमी है। उसकी मदद होनी है। अगर प्रधान पक्ष की मदद ना हुई तो उपद्रव हो जाएगा।' यह कॉल सहारनपुर के भाजपा जिलाध्यक्ष बिजेंद्र कश्यप को आई। कॉलर ने खुद को केंद्रीय मंत्री का पीए बताते हुए कहा कि प्रधान पक्ष की मदद होनी है। खुद को मंत्री का पीए बताने वाले शख्स का यह रवैया जब भाजपा जिलाध्यक्ष को अजीब लगा तो उन्होंने इस फोन कॉल की संबंधित मंत्रालय से पुष्टि की।

यह भी पढ़ें : गोकशी के खिलाफ ये लोग उतरे सड़क पर, पुलिस अफसरों से यह सजा देने की मांग की

इस दौरान ऐसी किसी भी फोन कॉल किए जाने की सूचना नहीं मिली। इस पर भाजपा जिलाध्यक्ष पुलिस थाने पहुंचे और पुलिस को पूरा मामला बताते हुए वह मोबाइल नंबर दिया जिससे फोन कॉल आई थी। मामले की गंभीरता को देखते हुए फिलहाल नगर थाना पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर इस संदिग्ध कॉलर की तलाश शुरू कर दी है।

यह भी पढ़ें : योगी सरकार का बड़ा फैसला, स्कूलों ने तोड़ा ये नियम तो मान्यता होगी रद्द!

यह है पूरा मामला

दरअसल, सहारनपुर-मुजफ्फरनगर हाईवे पर पड़ने वाले नागल थाना क्षेत्र के गांव खटोली में दो पक्षों के बीच विवाद चल रहा है। इसी मामले में बुधवार को भाजपा के सहारनपुर जिला अध्यक्ष विजेंद्र कश्यप गांव पहुंचे थे। एसडीएम देवबंद और राजस्व विभाग के अफसर वहां पहले से ही पहुंचे हुए थे। इस दौरान दोनों पक्षों को बैठाकर मामले को निपटाने और समझौता कराने का प्रयास किया गया लेकिन यहां मामला नहीं निपटा और दोनों पक्षों के बीच समझौते के जो प्रयास किए जा रहे थे वह सभी विफल हो गए। इसके बाद भाजपा जिलाध्यक्ष गांव से वापस चल दिये। विजेंद्र कश्यप के ही मुताबिक गांव से निकलने की कुछ ही देर बाद उन्हें एक फोन कॉल आई और कॉलर में खुद को मंत्री का पीए बताया।

यह भी पढ़ें : जाति विशेष के युवक ने फेसबुक पर की ब्राह्मण समाज की युवतियों पर अभद्र टिप्पणी, मचा हड़कंप

खुद को मंत्री का पीए बताने वाले इस शख्स ने दो टूक कहा की प्रधान अपना आदमी है उसकी मदद करनी है उसकी मदद कीजिए। इतना ही नहीं चेतावनी भरे लहजे में कहा कि अगर प्रधान पक्ष की मदद ना हुई तो विवाद बढ़ जाएगा उपद्रव हो जाएगा। खुद को मंत्री का पीए बताने वाले इस शख्स का यह फोन कॉल भाषा से ही अजीब लगता है और ऐसे में भाजपा जिला अध्यक्ष को शक हुआ तो उन्होंने इस फोन कॉल की पुष्टि करने के लिए संबंधित मंत्रालय से बात की। आपको यह जानकर हैरानी होगी कि इस दौरान क्रॉस चेक करने पर पता चला कि मंत्री के पीए की ओर से कोई फोन कॉल नहीं किया गया था।

यह भी पढ़ें : पुलिस भर्ती के नाम पर यहां हो गया खेल, लाखों लुटाने के बाद गुहार लगाने पहुंचे ये युवक

यह फर्जीवाड़ा सामने आने पर बिजेंद्र कश्यप नागल थाने पहुंचे और पुलिस को पूरे मामले की जानकारी दी। नागल थाना प्रभारी अमरदीप लाल ने कॉलर के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिए जाने की पुष्टि की है। उन्होंने बताया कि जांच की जा रही है और सर्विलांस टीम को भी नंबर भेज दिया गया है यह फोन कॉल कहां से आई थी यह मोबाइल नंबर किसके नाम से लिया गया है इन सभी तथ्यों की पड़ताल की जा रही है।

यह भी पढ़ें : अखबार बांटकर पढ़ाई करने वाले इस मुस्लिम युवक ने पास की UPSC-प्री परीक्षा, पूरे इलाके में मना जश्न

कहीं गांव से तो ही नहीं की गई कॉल

नगर थाना पुलिस को भाजपा जिला अध्यक्ष विजेंद्र कश्यप ने जब पूरा मामला बताया तो यह आशंका प्रबल हो गई की कोलर गांव का कोई व्यक्ति भी हो सकता है दरअसल विजेंद्र कश्यप के मुताबिक जैसे ही मैं गांव से बाहर निकले तो उन्हें फोन कॉल आई और कॉलर ने कहा कि प्रधान अपना आदमी है उसकी मदद होनी है ऐसे में यह आशंका जताई जा रही है कि कहीं दूर नहीं है और वह गांव में ही छिपा हो सकता है फिलहाल कॉलर कौन है और उसने पहले भी क्या इस तरह की कोई फोन कॉल की है यह सब जांच के बाद ही पता चल पाएगा।

Show More
Rahul Chauhan
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned