जानिए, फल बेचने वाले की बेटी कैसे बनी बॉलीवुड क्‍वीन

 जानिए, फल बेचने वाले की बेटी कैसे बनी बॉलीवुड क्‍वीन

सहारनपुर की इस बेटी ने पेश की मिसाल

सहारनपुर। मेरा नाम करेगा राेशन, जग में मेरा राज दुलारा, जिस फिल्मी दुनिया ने हमे यह गीत दिया है उसी फिल्मी दुनिया के बल पर सहारनपुर की इस बेटी ने नजीर पेश की है। सहारनपुर के कस्बा नानाैता के छाेटे से फल विक्रेता की बेटी छाेटे पर्दे से लेकर बॉलीवुड फिल्माें में धूम मचा रही है।  



बॉलीवुड फिल्मों से लेकर छोटे पर्दे पर लक्ष्मी माता, अनला जैसे किरदारों के रूप में पहचान बना चुकी दीपाली सैनी ने कहा कि लड़कियों के पास ड्रीम है। टैलेंट है तो उसे पोटली में बंद ना करें। उसे समाज के सामने रखने का प्रयत्न करें। दीपाली मानती है कि कामयाबी हमेशा संघर्ष के बाद ही मिलती है। उन्होंने हर माता-पिता को अपनी बेटियों को पढा लिखाकर उच्च पदों पर पहुंचाने की अपील की है।

नारायण-नारायण में‍ निभाया देवी लक्ष्‍मी का रोल


गुरुवार को माया नगरी मुंबई से अपने पैतृक घर सहारनपुर जिले के कस्बा-नानौता पहुंचने पर दीपाली सैनी ने बताया कि उनके कैरियर की शुरुआत वर्ष 2007 में देहाती माॅलीवुड फिल्म औकात से हुई थी। इसके बाद दूसरी फिल्म असर थी, जिसके चलते उन्हें नई पहचान मिली और उन्हें यूपी की बेस्ट एक्ट्रेस का अवार्ड मिल चुका है। उन्होंने कहा कि छोटे पर्दे पर प्रसारित बिग चैनल पर पर प्रसारित हुए टीवी सीरियल नारायण-नारायण में लक्ष्मी माता के किरदार ने उन्‍हें नई पहचान दिलाई है।

हनुमान सीरियल में भी निभा रही हैं किरदार


छोटे पर्दे पर लक्ष्मी के नाम से विख्यात हो चुकी अभिनेत्री दीपाली सैनी मानती हैं कि इन दिनाें टीवी चैनल्स पर धार्मिक सीरियल की बाढ़ सी आ गई है। हनुमान सीरियल में वह विभीषण की पुत्री अनला का रोल निभा रही हैं। धार्मिक सीरियल के किरदारों से उन्हें बहुत कुछ सीखने को मिला है। इसी का नतीजा है कि वह पहले से अधिक परिश्रम करने लगी है। बाेली कि जल्द सब टीवी का हैप्पी चैनल शुरू होने जा रहा है जिस पर दो नए सीरियल्स में वह मुख्य किरदार की भूमिका निभा रही हैं तो वहीं साउथ की एक फिल्म अभी साइन की है। दीपाली ने कहा कि अभी फिलहाल उनका शादी का कोई इरादा नहीं है। पूरा ध्यान अभी अपने कैरियर पर है।

कौन-कौन से चैनल के सीरियल में मिला काम

दीपाली के मुताबिक, हसीना नंबर वन में राकेश बेदी, शक्ति कपूर के साथ काम करने का भी अनुभव है। बिग-बास सीजन 5 में एंड्रयू साइंमडस के साथ गेस्ट एपीरेंस दिया। लाइफ ओके चैनल पर चल रहे सावधान इंडिया में वह अभी तक 15 एपीसोड में मुख्य भूमिका में निभा चुकी हैं आैर दूरदर्शन के सीरियल तुमको न भूल पांएगे, फिलहाल यूट्यूब पर चल रही पंजाबी एलबम सांग, जब मुस्कराया था चांद तो तेरी याद आई, में वह खास चर्चा में हैं। शादी के बारे में पूछने पर उन्होनें बताया कि अभी जीवन में संघर्ष बाकी है।

जानिए पारिवारिक हालात

दीपाली के परिवार में माता-पिता के साथ एक छोटा भाई है, जो शादीशुदा है। जबकि बडी बहन की शादी करीब 10 वर्ष पूर्व बडौत जिला बागपत में हो चुकी है। दीपाली बताती है कि शुरुआती पारिवारिक जीवन बडी कठिनाइयों में व्यतीत किया। पिता आभेराम सैनी एक छोटे से फल विक्रेता थे, तो माता एक गृहणी। मां घर में भैंस रखकर दूध बेचने का काम करती थी, लेकिन कड़े संघर्ष के बाद वर्षों बाद मिली कामयाबी से अब परिवार सुखी जीवन व्यतीत कर रहा है। ग्रेजुएट दीपाली ने अपनी कामयाबी का पूरा श्रेय अपने माता-पिता को दिया है।
Ad Block is Banned