आलोक प्रसाद की गिरफ्तारी के विरोध में गरजे कांग्रेसियों ने दी बड़ी चेतावनी

Highlights

  • कांग्रेस के अनुसूचित जाति विभाग के पदाधिकारियों ने कहा अपनी मनमर्जी कर रही प्रदेश सरकार
  • यह भी कहा दलितों की आवाज उठाने वालाें की दबाई जा रही आवाज, दर्ज किए जा रहे मुकदमें

By: shivmani tyagi

Updated: 16 Oct 2020, 05:01 PM IST

पत्रिका न्यूज़ नेटवर्क, सहारनपुर ( Saharanpur) कांग्रेस ( Congress ) अनुसूचित जाति विभाग के प्रदेश अध्यक्ष आलोक प्रसाद की गिरफ्तारी के विरोध में कांग्रेसी मुखर हाे गए हैं। शुक्रवार को सहारनपुर में कांग्रेस अनुसूचित जाति विभाग के कार्यकर्ताओं और पदाधिकारियों का एक दल जिलाधिकारी ( Saharanpur DM ) अखिलेश सिंह से मिला और इस पूरे मामले को झूठा बताते हुए अपने प्रदेश अध्यक्ष आलोक प्रसाद के खिलाफ हुई कार्रवाई को वापस लिए जाने की मांग की।

यह भी पढ़ें: नोएडा में पुलिस बदमाशों के बीच चली गोली, एक घायल दूसरा भागते हुए गिरफ्तार

जिलाधिकारी से मिलने से पहले इन कार्यकर्ताओं और पदाधिकारियों ने प्रदर्शन करते हुए अपना विरोध ( protest ) जताया। इनके हाथों में कांग्रेस के झंडे भी थे। इन्हाेंने आरोप लगाया कि राजनीतिक षड्यंत्र के तहत कांग्रेस अनुसूचित जाति विभाग के प्रदेश अध्यक्ष आलोक प्रसाद की गिरफ्तारी की गई है। उन्हें बिना कारण बताए ही देर रात अपने घर से गिरफ्तार कर लिया। आरोप यह भी लगाया कि प्रदेश सरकार दलितों का शोषण कर रही है। जो भी दलितों की आवाज उठाता है उनके खिलाफ कार्रवाई की जाती है, उन्हें गिरफ्तार कर लिया जाता है उनके खिलाफ झूठे मुकदमे दर्ज किए जाते हैं।

यह भी पढ़ें: बिजनौर में ईट भट्टे पर काम करने वाले गरीब परिवार की बच्ची को उठा ले गया गुलदार

आलोक प्रसाद की रिहाई की मांग कर रहे प्रदर्शनकारियों ने जिलाधिकारी अखिलेश सिंह के माध्यम से एक ज्ञापन भी राष्ट्रपति को प्रेषित किया। ज्ञापन में उन्होंने लिखा है कि उनके प्रदेश अध्यक्ष आलोक प्रसाद की रिहाई की जाए। इस ज्ञापन में प्रदर्शनकारियों ने चेतावनी भी दी है कि अगर ऐसा नहीं हुआ तो कांग्रेस अनुसूचित जाति विभाग सड़कों पर उतरकर जोरदार प्रदर्शन करेगा आंदोलन किया जाएगा। ज्ञापन देने वालों में मुख्य रूप से जिला अध्यक्ष अरविंद पालीवाल समेत बड़ी संख्या में कांग्रेसी मौजूद रहे।

Congress
shivmani tyagi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned