scriptDeobandi Ulemas said that Rizvi was already rejected from Islam | देवबन्दी उलेमाओं ने कहा इस्लाम से पहले ही खारिज हो चुके थे रिजवी | Patrika News

देवबन्दी उलेमाओं ने कहा इस्लाम से पहले ही खारिज हो चुके थे रिजवी

हिंदू धर्म कबूलने वाले रिजवी को लेकर देवबंदी उलेमाओं ने अपनी राय देते हुए कहा है कि वह पहले ही इस्लाम से खारिज हो चुके थे। वह स्वतंत्र हैं चाहे जाे भी धर्म अपना लें।

सहारनपुर

Published: December 07, 2021 06:37:02 pm

सहारनपुर. शिया वक्फ बोर्ड के चेयरमैन वसीम रिजवी के हिंदू धर्म अपनाने पर देवबंदी उलेमाओं ने तीखी प्रतिक्रिया दी है। उलेमाओं ने कहा है कि वसीम रिजवी इस्लाम से पहले ही खारिज हो चुके हैं। ऐसे में उनका हिंदू धर्म में जाना कोई हैरान कर देने वाली बात नहीं है। जमीयत दावतुल मुस्लिमीन के संरक्षक मौलाना कारी इशहाक गोरा ने कहा है कि इस्लाम में दीन के लिए कोई जोर जबरदस्ती नहीं है।
Wasim Rizvi Conversion : वसीम रिजवी के गाजियाबाद में जितेंद्र त्यागी बनने की ये है असली वजह,धर्म परिवर्तन ने मचाई राजनीति हलचल
Wasim Rizvi Conversion : वसीम रिजवी के गाजियाबाद में जितेंद्र त्यागी बनने की ये है असली वजह,धर्म परिवर्तन ने मचाई राजनीति हलचल
हमारा देश लोकतांत्रिक देश है यहां सबको अपनी जिंदगी अपने हिसाब से जीने का पूरा हक है और अधिकार भी है। यह अलग बात है कि किसी को भी किसी दूसरे इंसान के धर्म के प्रति टिप्पणी करने की इजाजत नहीं है। उन्होंने यह भी कहा कि रिजवी इस्लाम से पहले ही खारिज हो चुके थे। ऐसे में वह आजाद हैं और कोई भी धर्म अपना सकते हैं। अब देखना यह होगा कि वह सनातन धर्म को कितनी वफादारी से निभाकर चलते हैं।
इत्तेहाद उलमा-ए-हिंद के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष मौलाना मुफ्ती असद कासमी ने भी कहा है कि हम उन्हें पहले से ही मुसलमान नहीं मानते थे। ऐसे में अगर वह अब किसी दूसरे धर्म में चले जाते हैं तो कोई फर्क नहीं पड़ता है। उन्होंने सिर्फ मुस्लिम नाम रखा हुआ था जबकि उनके सभी कार्य पहले से ही गैर मजहबी थे।
देवबंदी उलेमाओं ने यह भी कहा है कि वसीम रिजवी पहले से ही जो कार्य कर रहे थे और जिस तरह के बयान दे रहे थे उससे पहले ही साफ हाे गया था कि वह इस्लाम में नहीं टिकने वाले हैं। उनके कृत्यों के आधार पर ही उन्हे इस्लाम से ही खारिज किया गया था।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Cash Limit in Bank: बैंक में ज्यादा पैसा रखें या नहीं, जानिए क्या हो सकती है दिक्कततत्काल पैसों की जरुरत है? तो जानिए वो 25 बैंक जो दे रहे हैं सबसे सस्ता Personal LoanNew Maruti Alto का इंटीरियर होगा बेहद ख़ास, एडवांस फीचर्स और शानदार माइलेज के साथ होगी लॉन्चVIDEO: राजस्थान में 24 घंटे के भीतर बारिश का दौर शुरू, शनिवार को 16 जिलों में बारिश, 5 में ओलावृष्टिश्री गणेश से जुड़ा उपाय : जो बनाता है धन लाभ का योग! बस ये एक कार्य करेगा आपकी रुकावटें दूर और दिलाएगा सफलता!प्रदेश में कल से छाएगा घना कोहरा और शीतलहर-जारी हुआ येलो अलर्टइन 4 राशि की लड़कियां अपने पति की किस्मत जगाने वाली मानी जाती हैंToyoto Innova से लेकर Maruti Brezza तक, CNG अवतार में आ रही है ये 7 मशहूर गाड़ियां, जानिए कब होंगी लॉन्च

बड़ी खबरें

गोवा में बीजेपी को एक और झटका, पूर्व सीएम लक्ष्मीकांत पारसेकर ने भी दिया इस्तीफासुरक्षा एजेंसियों की भुज में बड़ी कार्यवाही, 18 लाख के नकली नोटों के साथ डेढ़ किलो सोने के बिस्किट किए बरामदUP Assembly Elections 2022 : टिकट कटा तो बदली निष्ठा, कोई खोल रहा अपने नेता की पोल तो कोई दे रहा मरने की धमकीUP Assembly Elections 2022 : बसपा की दूसरी लिस्ट में 3 महिलाएं, 22 मुस्लिम चेहरें शामिल, देखिए पूरी लिस्टपीएम मोदी ने की जिला अधिकारियों से बात, बोले- आजादी के 75 साल बाद भी कई जिले रह गए पीछे, अब हो रहा अच्छा कामबड़ी खबर : स्कूल खोलने को लेकर कैबिनेट में होगी चर्चासुपरटेक ट्विन टावर : सुप्रीम कोर्ट ने दिए फ्लैट खरीददारों को दी राहतसीएम हेल्पलाइन बनी ब्लैकमेलिंग का धंधा - लेकिन अब जाना पड़ेगा जेल
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.