गजब: खुद को एनआरआई बताकर लूट लिया इन सभी व्यापारियों को

व्यापारियों को अपने साथ हुई इस ठगी का पता उस समय चला जब यह शातिर सहारनपुर से फरार हो गया।

By: Rajkumar

Published: 18 Aug 2017, 03:07 PM IST

सहारनपुर। खुद को एनआरआई बता कर एक शातिर सहारनपुर के कई व्यापारियों को चूना लगा गया। इसने कुछ व्यापारियों को विश्वास में लेकर तो कुछ को लालच देकर ठगी की। व्यापारियों को अपने साथ हुई इस ठगी का पता उस समय चला जब यह शातिर सहारनपुर से फरार हो गया। अब ठगी का शिकार हुए व्यापारी, अब पुलिस अफसरों के चक्कर लगा रहे हैं और यह बता रहे हैं कि खुद को एनआरआई बताने वाला ठग उनसे क्या-क्या ठग ले गया है।

पूर्व विधायक के साथ पहुंचे व्यापारी

ठगी का शिकार होने वाले व्यापारी सोमवार को पूर्व विधायक राजीव गुंबर के साथ एसएससी बबलू कुमार से मिले, और बताया कि खुद को एनआरआई बताने वाला एक शातिर ठग ने उनके साथ ठगी कर ली है। किसी से एक लाख, किसी से दो लाख, तो किसी अन्य से वह लाखों रुपए का सामान विश्वास के तौर पर लेकर फरार हो गया है। एसएससी बबलू कुमार ने पूरे मामले में जांच बैठा दी है और फिल्मी अंदाज में शहर के व्यापारियों को चूना लगाने वाले इस शातिर ठग का पता लगाने के निर्देश अपनी पुलिस टीम को दिए हैं।

ऐसे करता था ठगी

खुद को एनआरआई बताकर ठगी करने वाला यह शख्स बेहद शातिर ढंग से लोगों को ठगता है। शहर का ही रहने वाले राजकुमार शर्मा को इस ठग ने बताया कि उसकी चंडीगढ में एक फाइनेंस कंपनी है। उसके पास करीब 3 करोड़ रुपया है वह अपना पैसा एक प्रतिशत के ब्याज पर देना चाहता है। इस पर राजकुमार शर्मा ने 50 लाख रुपय मांगे तो आरोपी ने कहा कि वह एक प्रतिशत ब्याज दर पर पर 50 लाख रुपए दे देगा लेकिन इसके लिए पहले उसको कागजी कार्रवाई के लिए कुछ परसेंटेज देना होगा। इस तरह 50 लाख रुपए का लालच देकर इसने राजकुमार शर्मा से साढ़े तीन लाख रुपए ले लिए।

ऐसे ठगा शोरुम स्वामी को

आरोपी ठग ने शहर के रहने वाले एक शोरूम व्यापारी को विश्वास के जरिये चूना लगाया। कमल अरोड़ा का शहर में ही इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों का शोरूम है कमल के मुताबिक आरोपी ठग ने खुद को एनआरआई बताते हुए उनके यहां से कुछ सामान खरीदा और पूरा पेमेंट कर दिया। इसके बाद वह 2 दिन बाद उन्हें कुछ उपकरण खरीदने आया और उस उपकरण का भी पूरा पेमेंट साथ के साथ कर दिया। इस तरह आरोपी ठग ने अपना विश्वास जमा लिया और जब तीसरी बार शोरुम पर पहुंचा तो उसने कहा कि उसके पास आज भारतीय मुद्रा नहीं है। वह बाद में पेमेंट कर देगा उसका समान घर भिजवा दिया जाये। इस दिन उसने लाखों रुपये के समान का ऑर्डर किया और फरार हो गया।

Show More
Rajkumar
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned