खुद को bjp का राजमंत्री मंत्री बताकर खेत में जाने के लिए थाना अध्य्क्ष से एस्कॉर्ट मांगने वाला गिरफ्तार

Highlights

खुद को राज्यमंत्री बताकर रामपुर मनिहारान थाना प्रभारी से मांग रहा था एस्कॉर्ट हौंडा सिटी कार के साथ गिरफ्तार

By: shivmani tyagi

Updated: 28 May 2020, 02:43 PM IST

सहारनपुर। खुद को बीजेपी ( BJP ) का मंत्री बताकर थानाध्यक्ष से एस्कॉर्ट मांगने वाले एक युवक को सहारनपुर पुलिस ने गिरफ्तार किया है। इसके पास से एक होंडा सिटी गाड़ी भी मिली है। पुलिस ने इसके एक साथी को भी गिरफ्तार किया है। यह घटना क्षेत्र में चर्चा का विषय बनी हुई है। पकड़े गए युवक ने अपना नाम विवेक बताया है जबकि इसका एक तीसरा साथी फरार हो गया है।

रामपुर थाना प्रभारी छोटे सिंह के अनुसार उन्हें एक व्यक्ति ने कोल की और बोलाब कि, वह भाजपा के राज्य मंत्री हैं। उन्हें अपने खेत में जाना है। इसलिए 15 मिनट में थाना अध्यक्ष चुनहटी पुलिस चौकी के पास पहुंचे। यह बात सुनने में थाना अध्यक्ष को अजीब लगी लेकिन फिर भी वह अपनी गाड़ी लेकर बताए गए स्थान की ओर निकल पड़े। इसी बीच दोबारा से कॉल आई और व्यक्ति ने खुद को राज्यमंत्री बताते हुए कहा कि जल्दी आओ कुछ लोगों को उठाकर जेल भेजना है। जब कॉलर ने ऐसा कहा तो थाना अध्यक्ष को शक हो गया कि मामला कुछ और ही है। जैसे ही वह मौके पर पहुंचे तो वहां कुछ लोग खड़े हुए थे लेकिन इनमें से कोई भी राज्यमंत्री नहीं था। पुलिस ने जब इनसे पूछताछ की तो इसी दौरान एक युवक भाग गया लेकिन 2 को पुलिस ने हिरासत में ले लिया। बाद में पता चला कि खुद को राज्य मंत्री बता कर फोन करने वाले युवक का खेत की मेढ़ को लेकर विवाद चल रहा था। पड़ोसी खेत मालिक पर रौब गालिब करने के लिए उसने खुद को राज्यमंत्री बताते हुए थाना अध्य्क्ष को फोन किया था।

तीनों के खिलाफ थाना अध्यक्ष छोटे सिंह ने खुद अपनी ओर से मुकदमा दर्ज कराया है। पकड़े गए एक युवक का नाम विवेक कौशिक पुत्र गोपाल कृष्ण शर्मा निवासी गांधी कॉलोनी बाबा लाल दास रोड कोतवाली नगर है। जबकि दूसरा युवक इसका भाई मयंक शर्मा है। तीसरा जो युवक मौके से भाग गया है उसका नाम अर्जुन पंडित बताया जा रहा है। वह राधा कॉलोनी बाबा लाल दास रोड का रहने वाला है। इस गंभीर मामले की जांच सरसावा थाना प्रभारी को दी गई है।

BJP
shivmani tyagi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned