जिला पंचायत अध्यक्ष पति समेत 9 के खिलाफ कोर्ट के आदेश पर ठगी का मुकदमा दर्ज

  • चीनी बेचने के नाम पर 38 लाख रुपये की ठगी करने का आरोप
  • पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर शुरू की आरोपों की जांच

By: shivmani tyagi

Published: 26 Nov 2020, 11:42 PM IST

पत्रिका न्यूज़ नेटवर्क
सहारनपुर ( Saharanpur ) जिला पंचायत अध्यक्ष पति समेत सहारनपुर पुलिस ने 9 लोगों के खिलाफ मुकदमा ( FIR ) दर्ज किया है। आरोपियों में देश की राजधानी दिल्ली से लेकर हरियाणा तक के लोग शामिल हैं। आरोप है कि इन्होंने चीनी बेचने के नाम से 38 लाख रुपए की ठगी की है।

यह भी पढ़ें: सांसद आजम खान को एक और झटका पासपोर्ट मामले में हाईकोर्ट से बाप-बेटे की जमानत अर्जी रद्

यह मुकदमा संत कृपा ट्रेडर्स के अधिकृत प्रतिनिधि अजीत कुमार की ओर से दर्ज कराया गया है। दिए गए प्रार्थना पत्र में जिला पंचायत अध्यक्ष पति माजिद अली समेत 9 लोगों के नाम खोले गए हैं। इन सभी पर 38 लाख रुपए की ठगी का आरोप लगाया गया है। सीजीएम कोर्ट में पीड़ित की ओर से प्रार्थना पत्र दिया गया था। इस प्रार्थना पत्र में वादी ने बताया कि वह चीनी बेचने का काम करता है। वर्ष 2019 मैं कंपनी में मैसर्स टोडरपुर एग्रो केयर ऑफ मनमोहन शर्मा निवासी रुड़की सिविल लाइन ने उनसे मुलाकात की और बताया कि नंदकिशोर निवासी आईपी एक्सटेंशन दिल्ली, उमराव सिंह निवासी जालंधर, माजिद अली निवासी देवबन्द, बालेंद्र सिंह निवासी मुम्बई समेत महिपाल सिंह प्रह्लाद सिंह और हरजिंदर बंसल ने मिलकर टोडरपुर चीनी मिल को खरीद लिया है और मिल में लाखों रुपए की चीनी रखी हुई है।
इस तरह मिल में रखी चीनी का सौदा किया और 38 लाख रुपए एडवांस में ले लिए। वादी ने आरोप लगाया कि इसके बाद उन्हें चीनी नहीं दी गई। वह पुलिस के पास पहुंचे लेकिन पुलिस थाने में कोई सुनवाई नहीं हुई। इसके बाद उन्होंने न्यायालय से गुहार लगानी पड़ी। कोर्ट के आदेश ( Court order )
पर अब सहारनपुर पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी है।

यह भी पढ़ें: मुजफ्फरनगर में चलती बस में व्यक्ति की गोली मारकर हत्या
मुजफ्फरनगर में चलती बस में व्यक्ति की गोली मारकर हत्या

एसपी सिटी विनीत भटनागर ने बताया कि चीनी बेचने के नाम पर ठगी के आरोप सामने आए हैं। अदालत के आदेश पर मामला दर्ज कर लिया गया है। जांच की जा रही है जो भी तथ्य जांच में सामने आएंगे उन्हीं के अनुसार आगे की कार्यवाही की जाएगी। जिला पंचायत अध्यक्ष पति माजिद अली का कहना है कि मुकदमा दर्ज कराने वाले अजीत कुमार को वह नहीं जानते हैं और ना ही कभी उनसे मिले हैं। ऐसे में उनसे पैसा लेने या ठगी करने का कोई सवाल ही नहीं उठता। उन्होंने खुद पर लगे सभी आरोपों को निराधार बताया है।

shivmani tyagi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned