हाथरस कांड के बाद भीम आर्मी प्रमुख चंद्रशेखर काे पुलिस ने थमाया नाेटिस, किए गए नजरबंद

  • दिल्ली से हिरासत में लिए गए चंद्रशेखर
  • छुटमलपुर स्थित आवास पर लेकर पहुंची पुलिस
  • हाथरस गैंगरेप की घटना के बाद चंद्रशेखर काे नाेटिस

By: shivmani tyagi

Updated: 01 Oct 2020, 07:06 AM IST

सहारनपुर। हाथरस कांड के बाद दिल्ली सफदरगंज अस्पताल के बाहर धरना दे रहे भीम आर्मी प्रमुख चंद्रशेखर ( Bhim Army founder Chandrashekhar ) काे पुलिस ने हिरासत में लिया और सहारनपुर ( Saharanpur ) ले आई। यहां उन्हे उनके छुटमलपुर आवास पर पुलिस ( Saharanpur Police ) ने नजरबंद कर दिया है।

यह भी पढ़ें: 2 अक्टूबर से रेलवे चला रहा दाे स्पेशल ट्रेनें

पुलिस जब भीम आर्मी के अध्यक्ष चंद्रशेखर आजाद काे लेकर छुटमलपुर पहुंची ताे उनके घर पर भीम आर्मी कार्यकर्ता इकट्ठे हाे गए। इसके बाद छुटमलपुर में फाेर्स तैनात कर दिया गया। फतेहपुर थाना पुलिस की ओर से चंद्रशेखर काे धारा 144 का एक नाेटिस भी थमाया गया है। इस नाेटिस में उन्हे घर से बाहर नहीं निकलने की हिदायत दी गई है। यानि एक तरह से पुलिस ने चंद्रशेखर काे उनके छुटमलपुर स्थित आवास पर ही नजरबंद कर दिया है।

यह भी पढ़ें: हाथरस गैंगरेप: पीड़िता का रात्रि में अंतिम संस्कार करने पर बवाल

फतेहपुर थाना प्रभारी मनाेज चाैधरी ने चंद्रशेखर काे धारा 144 का नाेटिस दिए जाने की पुष्टि की है। जब इस बारे में उनसे बात की गई ताे उन्हाेंने बताया कि चंद्रशेखर काे एक नाेटिस दिया गया है। इस नाेटिस में लिखा है कि, चंद्रशेखर के घर से बाहर निकलने पर भीड़ इकट्ठा हाे रही है जिससे शांति भंग हाेने की आशंका है। इसी काे देखते हुए उन्हे नाेटिस देकर घर में ही रहने की चेतावनी दी गई है।


जानिए पुलिस ने क्या लिखा है नाेटिस में

पुलिस ने जाे नाेटिस भीम आर्मी चीफ आजाद को दिया है उसमें लिखा है कि, चंद्रशेखर आजाद आपकाे अवगत कराना है कि जिले में धारा 144 लागू है। पुलिस काे अपने सूत्रों से यह जानकारी मिली है कि आपके आचरण और घर से बाहर निकलने से भीड़ इकट्ठा हाे रही है। इससे जनसामान्य में शांति भंग का खतरा हाे रहा है, किसी अप्रिय घटना की भी आशंका है। इसलिए आप अपने घर में ही माैजूद रहेंगे। यदि इस नाेटिस के बाद भी आप इस तरह का कृत्य करेंगे ताे आपके खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाएगी।

notice.jpg

चंद्रशेखर ने किया ट्वीट ' इन लाेगाें की नाैतिकता मर चुकी है'

भीम आर्मी प्रमुख चंद्रशेखर ने पुलिस की ओर से मिले नाेटिस काे पाेस्ट करते हुए ट्वीट किया है कि, पूरी दुनिया ने देखा कैसे सरकार और पुलिस की मिलीभगत से हमारी बहन का दाहसंस्कार परिजनाें की गैरमाैजूदगी में उनकी बिना मर्जी से किया गया। इन लाेगाें की नाैतिकता मर चुकी है। मुझे इनकी पुलिस ने रात हिरासत में लिया और अब सहारनपुर लाकर मुझे नजरबंद कर दिया लेकिन हम लड़ेंगे।

shivmani tyagi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned