Lockdown में मजदूरों के लिए खाने-रहने की व्यवस्थाएं कराएगें सभी संस्थान

Highlights

  • रहने खाने के साथ-साथ स्वास्थ्य सेवाएं भी देंगे
  • मजदूरों का नहीं हाेना चाहिए कहीं से भी पलायन

 

By: shivmani tyagi

Updated: 06 Apr 2020, 10:17 PM IST

सहारनपुर। कोरोना वायरस (कोविड- 19) जैसी वैश्विक महामारी की रोकथाम के लिए पूरे देश में लाॅकडाउन है। इस लाॅकडाउन को सफल बनाने बनाने के लिए उप श्रमायुक्त ने कोरोना जैसी महामारी की रोकथाम के लिए सहारनपुर क्षेत्र के सभी श्रमिकों से अपील की है कि है कि वह सभी अपने और अपने परिवार के साथ वहीं पर रुके जहां भी रह रहे हैं।

यह भी पढ़ें: Breaking: सहारनपुर की 4 और रिपाेर्ट पॉजिटिव, कोरोना मरीजों की संख्या बढ़कर हुई पांच

उप श्रमायुक्त ने मजदूरों काे भराेसा दिलाया है कि वह जिस संस्थान में भी वह काम कर रहे हैं वहीं पर उनके रहने और खाने का इंतजाम ऐसे ही हाेता रहेगा जैसा संस्थान में सामान्य दिनों में हाेता रहा है। इसके लिए सभी उद्योग स्वामियों और संस्थान के मालिकों काे भी निर्देश दिए गए हैं, कि उनके प्रतिष्ठानों पर जो कार्मिक रुके हुए हैं उनके खाने-पीने और रहने की पूर्ण व्यवस्था वर्तमान स्वास्थ्य सम्बन्धी दिशा-निर्देशों के क्रम में सुनिश्चित कराएंगे।

यह भी पढ़ें: सहारनपुर: संक्रमण के खतरे के बीच प्रधानाध्यापिका ने लगवाई क्वारंटाइन हाउस में ड्यूटी, रोज कर रही सेवा

यह भी निर्देश जारी किए गए हैं कि जाे प्रतिष्ठान शासन या जिला प्रशासन के निर्देशानुसार छूट प्राप्त किये हैं उन सभी प्रतिष्ठानों पर सैनीटाइजेशन व्यवस्था और श्रमिकों के स्वास्थ्य एवं सुरक्षा का पुरा ख्याल रखा जाए। इतना ही नहीं समय से सभी श्रमिकों काे वेतन दिया जाएगा किसी का भी वेतन काटा नही जाएगा।

यह भी पढ़ें: लॉकडाउन के दौरान मेरठ की पॉश कालोनी में हो गई लाखों की चोरी, घर में थे सारे लोग मौजूद

दरअसल, सहारनपुर में कोरोना के मामले में बढ़ते जा रहे हैं। शामली में कोरोना मरीजों की संख्या बढ़कर 11 हाे गई है और सहारनपुर में कोरोना के 4 नए मामले आने के बाद मरीजों की संख्या बढ़कर 5 हाे गई है। ऐसे में लाेगाें काे लॉक डाउन का पालन करने की सलाह दी जा रही है।

कोरोना वायरस
shivmani tyagi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned