मकर संक्रांति: आज 17 साल बाद बन रहा गजब का संयोग, इस तरह दान करने से बनेंगे बिगड़े काम

मकर संक्रांति: आज 17 साल बाद बन रहा गजब का संयोग, इस तरह दान करने से बनेंगे बिगड़े काम

lokesh verma | Publish: Jan, 14 2018 10:46:08 AM (IST) Saharanpur, Uttar Pradesh, India

आज मकर संक्रांति पर दोपहर पौने 2 बजे मकर राशि में प्रवेश करेगा सूर्य

सहारनपुर. रविवार आज दोपहर पौने 2 बजे सूर्य मकर राशि में प्रवेश करेगा। 17 साल बाद यह अनोखा संयोग बना है कि रविवार के दिन मकर संक्रांति है और सूर्य अपने ही दिन उत्तरायण हो रहे हैं। धार्मिक विद्वानों की मानें तो आज महा पुण्यकाल है और दोपहर 2.20 बजे तक अगर आप स्नान और दान करते हैं तो इसका बेहद पुण्य मिलने वाला है। आज आपके सभी काम बन जाएंगे। दोपहर 1:45 बजे सूर्य देव मकर राशि में प्रवेश करेंगे और जैसा कि आप जानते हैं कि मकर राशि शनिदेव की अपनी राशि है, यानि आज पिता सूर्य का अपने पुत्र की राशि में प्रवेश होने जा रहा है। ऐसा होने से सभी शुभ कार्य प्रारंभ हो जाएंगे, लेकिन शुक्र के अभी अस्त होने की वजह से शहनाइयां बजना शुरू नहीं होंगी। शादियों के लिए अभी आपको इंतजार करना होगा।

ऐसे करें सूर्य उपासना

अगर आप भी इस महा पुण्यकाल का लाभ लेना चाहते हैं तो इसके लिए भगवान सूर्य को जल दें जल देते समय जल में हल्दी और गुड़ भी डाल लें। ऐसा करने से सूर्य देव प्रसन्न होंगे और आपके सभी बिगड़े काम बनेंगे और सूर्य देव की कृपा आप पर बनी रहेगी।

मंत्र

भगवान सूर्य को जल देते समय आप

ॐ घृणी सूर्याय नमः
ॐ घृणि सूर्य आदित्योंम
इन दोनों मंत्र को पढ़ सकते हैं इनके अलावा मकर संक्रांति के दिन सूर्य गायत्री का पाठ करने का विशेष महत्व है।

यह है सूर्य गायत्री पाठ

ॐ आदित्याय विद्महे सहस्त्र किरणाय धीमहि। तन्न सूर्य प्रचोदयात।


इसलिए है शुभ संयोग

ऐसा 17 साल बाद हुआ है कि सूर्य के अपने ही दिन यानि रविवार को मकर संक्रांति आई है। आचार्य पंडित रोहित वशिष्ठ के अनुसार अपने ही दिन सूर्य उत्तरायण हो रहे हैं। रविवार को ही ध्रुव योग ? बन रहा है। रविवार को ही प्रदोष व्रत है। वृष लग्न में सूर्य का धनु से मकर में केतु के साथ प्रवेश होना भी अपने आप में महत्वपूर्ण है और यह बेहद शुभ संयोग है। इस बार मकर संक्रांति इसलिए भी शुभ फल देने वाली है, क्योंकि आगामी नव संवत्सर के राजा और मंत्री सूर्य और शनि ही हैं।

Ad Block is Banned