बड़ी खबर: सेना का जवान बनकर प्रतिबंधित क्षेत्र में घुस गया शख्स, अब हुआ चौंकाने वाला खुलासा

बड़ी खबर: सेना का जवान बनकर प्रतिबंधित क्षेत्र में घुस गया शख्स, अब हुआ चौंकाने वाला खुलासा

Kaushlendra Pathak | Publish: Feb, 15 2018 04:32:44 PM (IST) | Updated: Feb, 15 2018 04:34:59 PM (IST) Saharanpur, Uttar Pradesh, India

एक शख्स सेना का जवान बनकर प्रतिबंधित एरिया में घुस गया।

सहारनपुर। यहां एक ऐसा मामला सामने आया है, जिसने पूरे पुलिस महकमे में सनसनी मचा दी है। बताया जा रहा है कि सेना के प्रतिबंधित क्षेत्र से एक संदिग्ध को गिरफ्तार किया गया है। पकड़ा गया संदिग्ध एक लड़की के साथ सेना के प्रतिबंधित क्षेत्र में घूम रहा था, जब सैन्यकर्मियों ने लड़के से पूछताछ की तो उसने फर्जी आई कार्ड दिखाया और उसके बाद सैन्यकर्मियों ने इसे हिरासत में ले लिया। पकड़े गए युवक का नाम सलमान बताया जा रहा है। सेना की इंटेलिजेंस एजेंसियों की टीम ने इससे घंटों पूछताछ की और पूछताछ के बाद उसे जनकपुरी थाना पुलिस के हवाले कर दिया गया। जनकपुरी थाना पुलिस गिरफ्तार युवक के खिलाफ फिलहाल कानूनी कार्रवाई कर रही है।

यह है पूरा वाक्या...

सहारनपुर के देहरादून रोड पर सेना का रिमाउंट रिपोर्ट एंड ट्रेनिंग सेंटर है। सैकड़ों बीघा एरिया में फैले इस ट्रेनिंग सेंटर में सेना के घोड़ों को पढ़ाया जाता है और ट्रेनिंग दी जाती है। वेलेंटाइन-डे पर एक संदिग्ध यहां लड़की के साथ सेना के प्रतिबंधित क्षेत्र में घुस गया। जब सैन्यकर्मियों ने इससे पूछा कि वह कौन है तो अपनी गर्लफ्रेंड के सामने युवक रुआब गालिब करने लगा और एक फर्जी आईकार्ड निकाल कर पुलिस को दिखाते हुए कहा कि वह सेना से है। पुलिस मामला गड़बड़ लगा तो उसे तुरंत हिरासत में ले लिया गया। पूछताछ के दौरान पता चला कि युवक सहारनपुर का ही रहने वाला है और इसके पास जो आईकार्ड है वह फर्जी है। इसके तुरंत बाद सैन्य कर्मियों ने उसे गिरफ्तार कर लिया और इससे घंटों पूछताछ की गई। प्राथमिक पूछताछ में यह बात सामने आई है कि युवक ने अपनी गर्लफ्रेंड को इंप्रेस करने के लिए खुद को सेना का जवान बताया था और जब गर्लफ्रेंड ने कहा कि अगर वह सेना का जवान है तो उसे सैन्य क्षेत्र में घुमाकर ले आए। वेलेंटाइन डे पर गर्लफ्रेंड की इसी जिद को पूरा करने के लिए वह सैन्य क्षेत्र में गया था। यह अलग बात है कि इस पूछताछ में सामने आई बात की अभी कोई आधिकारिक पुष्टि नहीं हो रही है। जनकपुरी थाना प्रभारी शैलेंद्र कुमार शर्मा ने बताया कि अभी तक उनके पास तहरीर नहीं आई है। तहरीर आने के बाद कानूनी कार्रवाई की जाएगी और उसके बाद ही वह आधिकारिक रूप से इस शख्स के बारे में कोई जानकारी दे पाएंगे।


200 में बनवाया था कार्ड

बताया जाता है कि इंटेलिजेंस की पूछताछ में यह बात भी सामने आई है कि इस युवक ने सहारनपुर के ही एक कंप्यूटर ऑपरेटर से महज 200 रुपये में सेना का फर्जी कार्ड बनवाया था। पुलिस ने अब उस कंप्यूटर ऑपरेटर को भी गिरफ्तार कर लिया है और फिलहाल दोनों से पूछताछ की जा रही है।

Ad Block is Banned