Corona Curfew की घाेषणा पर व्यापारी ने कर्मचारियों को दिया एक माह का एडवांस वेतन और राशन

कोरोना Corona Virus के बढ़ते मामलों को देखते हुए लॉकडाउन Lockdown होने की आशंका जताई जा रही है कि ऐसे में सहारनपुर के एक व्यापारी merchant ने अपने कर्मचारियों employees को एक माह की एडवांश सेलरी advance salary दी है।

By: shivmani tyagi

Updated: 02 May 2021, 04:05 PM IST

पत्रिका न्यूज नेटवर्क
सहारनपुर Saharanpur कोरोना Corona virus काल में जब अपने भी हाथ पीछे खींच रहे हैं ऐसे में सहारनपुर के एक व्यापारी merchant ने अपने कर्मचारियों को एक माह का एडवांश वेतन और राशन देकर अच्छी पहल की है। व्यापारी का यह प्रयास भले ही छोटा हो लेकिन इसके पीछे एक बड़ा संदेश छिपा है। संदेश यही है कि हमें वायरस COVID-19 virus से बचने के लिए सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना है लेकिन इसका मतलब यह बिल्कुल नहीं है लेकिन हम लोगों से ही दूरी बना लें। यानी वर्तमान समय एक दूसरे की मदद करने है और अगर आपके आस-पास भी ऐसे जरूरतमंद लोग हैं तो आपकों वर्तमान समय में उनसे मुंह नहीं मोड़ना है बल्कि साहस बंधाना है और उनकी मदद करनी है।

यह भी पढ़ें: कोरोना योद्धा! मां की कोरोना से हुई मौत, ड्यूटी पर रहकर लोगों की जान बचा रहे डॉ अतुल

नुमाईश कैंप के रहने वाले अनिल रसवंत की मटिया महल में रेडीमेड गारमेंट्स की शॉप है। अनिल के अनुसार उनकी शॉप पर कुल तीन कर्मचारी हैं। तीनों सहारनपुर के ही रहने वाले हैं। अनिल बताते हैं जैसे ही तीन दिन के कोरोना कर्फ्यू का एलान हुआ तो तीनों कर्मचारियों के चेहरों से हवाईयां उड़ गई। यह देख अनिल रसवंत समझ गए कि कर्मचारियों को लॉकडाउन का डर सता रहा है। अऩिल के अनुसार उनके शोरूम पर मुस्लिम कर्मचारी भी हैं ऐसे में ईंद आने वाली है तो लॉकडाउन को लेकर उनकी परेशानी और बढ़ गई। इस पर उन्होंने अपने कर्मचारियों को तीन दिन का कोरोना कर्फ्यू लगने की घोषणा के साथ ही एक माह का एडवांस वेतन और सभी कर्मचारियों का एक माह का वेतन दिया है।

यह भी पढ़ें: कोरोना अपडेट : दिव्यांग पति, मानसिक बीमार बेटे की मौत, बंद कमरे में चार दिन तक चीखती रही दिव्यांग पत्नी

पिछले लॉकडाउन के दौरान प्रवासी मजदूरों की जो कहानियां सामने आई थी उन्होंने सभी के दिलों को झकझोर दिया था। अधिकांश प्रवासी मजदूर इसलिए अपने घरों को लोट रहे थे क्योंकि उनके पास एक माह का भी राशन नहीं था। ऐसे में अऩिल रसवंत का यह प्रयास भले ही एक छोटा प्रयास हो लेकिन इससे बड़ा संदेश जाएगा और अगर सभी व्यापारी अपने कर्मचारी परिवारों और संभ्रात लोग अपने पड़ोसियों का ध्यान रख लें तो ऐसे समय में किसी को परेशानी नहीं होगी और संकट के इस समय से लोग मिलकर निपट लेंगे। राशन के लिए लोगों को मजबूर घर से बाहर नहीं निकना पड़ेगा और इससे वायरस को फैलने से रोकने में मदद मिलेली।

यह भी पढ़े: एक रुपया खर्च नहीं होगा, बढ़ जाएगी आपके पंखे की रफ्तार और घट जाएगा बिजली बिल

यह भी पढ़े: अगर आपको भी आजकल कुछ भी छूने से लग रहा है करंट ताे जान लीजिए इसकी वजह

यह भी पढ़े: पंचायत चुनाव में सवा करोड़ वाली मर्सिडीज से पर्चा दाखिल करने पहुंचा गांव का प्रत्याशी

यह भी पढ़े: अनोखा दरबार जहां मांगी गई मन्नत पूरी हाेने पर हिन्दू-मुस्लिम सभी चढ़ाते हैं मुर्गा

shivmani tyagi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned