बड़ी कार्रवाईः रैंगिग मामले में मेडिकल कॉलेज के 52 छात्र सस्पेंड, जांच अभी जारी

सहारनपुर के शेखुल हिंद माैलाना महमूद हसन मेडिकल कॉलेज का मामला, 36 घंटे में 52 स्टूडेंट्स पर गिरी गाज

By: shivmani tyagi

Published: 29 Nov 2018, 09:08 AM IST

सहारनपुर के सरसावा स्थित शेखुल हिंद माैलाना महमूद हसन मेडिकल कॉलेज के प्रशासन रैंगिग मामले में आराेपी छात्राें पर बड़ी कार्रवाई करते हुए 52 छात्राें काे सस्पेंड कर दिया है। कॉलेज की आेर से की गई इस कार्रवाई में आराेपी छात्राें काे एक माह के लिए क्लास से आैर छह माह के लिए छात्रावास से सस्पेंड किया गया है। यानि आराेपी छात्र एक माह तक क्लास में नहीं आएँगे आैर आगले छह माह तक वह छात्रावास में भी नहीं रह सकेंगे। कॉलेज प्रशासन ने महज 36 घंटे के भीतर यह कार्रवाई करते हुए पूरे देश के छात्र-छात्राआें काे एक सबक दिया है। इस कार्रवाई काे एक नजीर मना जा रहा है आैर यह उम्मीद जताई जा रही है कि इस कार्रवाई के बाद देश के दूससे शिक्षण संस्थानाें में भी अब छात्र-छात्राएँ रैंगिग करने की हिम्मत जुटाने से पहले कई बार साेचेंगे।

 

ये था मामला

दरअसल साेमवार की रात मेडिकल कॉलेज में सीनियर छात्राेंने जूनियर छात्राें की रैंगिग की थी। इसका खुलासा तब हुआ जब अगले दिन 45 से अधिक फ्रैशर छात्राें ने इसकी शिकायत प्राचार्य डॉ. अरविंद त्रिवेदी से करते हुए बताया कि उन्हे मुर्गा बनाया गया आैर बेढंगे तरीके से उनके बाल काट दिए गए। इस घटना से पूरे कॉलेज प्रशासन में हड़कंप मच गया आैर एंटी रैंगिग कमेटी ने अपनी जांच शुरु कर दी। महज 36 घंटे के भीतर ही जांच कमेटी ने अपनी रिपाेर्ट दे दी आैर इस रिपाेर्ट के आधार पर 52 छात्राें काे संस्पेंड कर दिया। प्रशासन ने कार्रवाई करते हुए आराेपी छात्राें के अभिभावकाें काे भी इसकी सूचना दे दी है। जिन छात्राें पर कार्रवाई हुई उनमें 2016 बैच के तीन आैर 2017 बैच के 49 छात्र शामिल हैं।

Show More
shivmani tyagi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned