जब SSP के घर में घुस गए थे उपद्रवी तो जानिए क्या किया एसएसपी की पत्नी ने...

पथराव में घायल हो गए एसएसपी लेकिन ये बात उन्होंने किसी को नहीं बताई, जानिए क्यों

शिवमणी त्यागी,
सहारनपुर। अम्बेडकर शोभा यात्रा पर पथराव के बाद जब बवाल हुआ तो सैकड़ों की भीड़ एसएसपी के घर में जा घुसी। खुद एसएसपी फोर्स के साथ सड़क दूधली में जिले के परिवारों की रक्षा के लिए खड़े हुए थे और गुरुवार को यहां उपद्रवियों ने उनके घर को घेर लिया था। घर में एसएसपी की पत्नी और उनके दो बच्चे। 6 साल की रुंजुन 8 साल का बेटा मौजूद थे। इससे पहले कि एसएसपी की पत्नी और बच्चे इस भीड़ का कारण समझ पाते भीड़ ने एसएसपी के आवास पर हमला बोल दिया। यह किसी फिल्मी कहानी जैसा था कि एसएसपी जो पूरे जिले की सुरक्षा करता है शुक्रवार को उनके आवास के सुरक्षा घेरे में छेद हो गया था।


लव कुमार बेहद ईमानदार और व्यवहार कुशल आईपीएस अफसर हैं और यही कारण है कि जब एसएसपी की पत्नी ने बाहर आई भीड़ के बारे में फॉलोअर से पूछा तो उन्होंने बताया कि सांसद जी आये हैं। जिनके साथ कुछ लोग भी हैं। इस पर एसएसपी की पत्नी ने सभी लोगों को कैम्प आॅफिस में बैठाने के लिए कहा। यह लव कुमार और उनके परिवार के आदर्श थे। इसके कुछ ही देर बाद भीड़ जैसे आक्रामक हो गई। भीड़ से आवाज आई, कहां है कप्तान आज उन्हें घर में नहीं घुसने देंगे। इस पर एसएसपी का परिवार हतप्रभ रह गया।

बंगले पर फोर्स भी नहीं था, खुद कप्तान फोर्स के साथ गुरुवार को हुए हंगामे के कारण सहारनपुर के परिवारों की रक्षा के लिए निकले थे और खुद आज उनके परिवार रक्षा के लिए फोर्स नहीं बचा। इधर भीड़ का गुस्सा बढ़ रहा था और तोड़ फोड़ के बाद भीड़ ने कप्तान के बंगले के अंदर जहां उनका परिवार था उस ओर रुख कर लिया। इस पर एसएसपी की पत्नी ने तुरंत एसएसपी लव कुमार को फोन किया और पूरी परिस्थितियों से अवगत कराते हुए बच्चों को घर के सुरक्षित हिस्से में ले गई। इसके बाद बंगले पर तैनात एक दरोगा और फॉलोअर ने अंदर का सभी दरवाजे बंद कर दिया। बताया जाता है कि इसके बाद सांसद को सीधे लखनऊ से आये एक वीवीआईपी फोन कॉल पर यह निर्देश दिए कि वह महज पांच मिनट में एसएसपी आवास छोड़ दें ओर इसके बाद यहां से सांसद भीड़ को लेकर निकल गए।

एसएसपी आवास पर हमले की खबर आग की तरह फैली

सहारनपुर के एसएसपी के घर पर हमले की खबर पूरे प्रदेश में आग की तरह फैल गई। जब खुद लव कुमार के सगे संबंधियों और उनके घरवालों तक यह खबर गई तो उनके फोन घनाघन बजने लगे। अगले दिन तक इस संबंध में एसएसपी के फोन पर 500 से अधिक कॉल आई। ये सभी कॉल उनके चिंतकों की थी।

एसएसपी के पैर में आये टांके

सड़क दूधली में हुए बवाल के में एसएसपी लव कुमार भी घायल हो गए। उनके पैर में गंभीर चोट आई। एसएसपी के घायल होने की खबर सुनकर फोर्स अपना आपा ना खो बैठे यहीं सोचकर एसएसपी ने यह बात किसी को नहीं बताई और पैर पर रुमाल बांधकर वह अडिग ड्यूटी करते रहे। बाद में मामला शांत होने पर जब उन्हें डॉक्टर के पास ले जाया गया तो उनके पैर ऑपरेट करना पड़ा और इनके पैर में कई टांके आये।
Show More
Rajkumar
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned