यूपी: सपा नेता ने अपने ढाबे पर सरकारी टीम को बंधक बनाकर पीटा, बाप बेटे के खिलाफ मुकदमा दर्ज

  • सहारनपुर के कुतुबशेर थाना क्षेत्र का मामला
  • सपा नेता ने लगाया टीम पर खाने का बिल ना देने का आरोप
  • सपा नेता और उसके बेटे के खिलाफ मुकदमा दर्ज
  • पुलिस ने सपा नेता काे थाने से छाेड़ा नहीं की गिरफ्तारी

By: shivmani tyagi

Published: 26 Jun 2019, 08:25 AM IST

सहारनपुर। सपा नेता और सहारनपुर के पूर्व जिला अध्यक्ष के खिलाफ सहारनपुर पुलिस ने खाद्य सुरक्षा विभाग की टीम को बंधक बनाकर मारपीट किए जाने और पैसे लूट लिए जाने के आरोप में मुकदमा दर्ज किया है।

खाद्य सुरक्षा विभाग की टीम सपा नेता एवं पूर्व जिला अध्यक्ष मजाहिर हसन मुखिया के ढाबे पर निरीक्षण के लिए पहुंची थी। आरोपों के अनुसार मजहिर हसन मुखिया और उनके बेटे ने अपने स्टाफ के साथ मिलकर खाद्य सुरक्षा विभाग की टीम को बंधक बना लिया और उनके साथ जमकर मारपीट की।

मौके पर पहुंची पुलिस दोनों पक्षों को थाने ले आई अभिहीत अधिकारी रणधीर सिंह का मेडिकल कराए जाने के बाद उनकी तहरीर के आधार पर सपा नेता के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया। लेकिन हैरान कर देने वाली बात यह है कि मुकदमा दर्ज किए जाने के बाद सपा नेता आरोपी हमलावर मजाहिर हसन मुखिया को थाने से छुड़ा ले गए।

 

जानिए क्या है पूरा मामला

दरअसल अंबाला रोड पर समाजवादी पार्टी के पूर्व जिला अध्यक्ष मजाहिर हसन मुखिया का चीतल नाम से ढाबा है। मंगलवार को खाद्य सुरक्षा विभाग की टीम इनके ढाबे पर चेकिंग करने के लिए पहुंची थी। खाद्य सुरक्षा विभाग की टीम के अफसरों के मुताबिक ढाबे पर उस समय मजाहिर हसन मुखिया और उनका बेटा मौजूद थे। टीम ने यहां नमूने लिए जाने की बात कही तो दोनों ने ढाबे पर काम कर रहे अन्य लोगों के साथ मिलकर पूरी टीम को बंधक बना लिया।

आरोप है कि इस दौरान सपा नेता और उनके बेटे ने खाद्य निरीक्षक मनोज कुमार इंदल के साथ मारपीट की और उसकी जेब से कागजात और पैसे भी लूट लिए। सरकारी टीम को बंधक बनाकर पीटे जाने की सूचना जब पुलिस को मिली तो खलबली मच गई। तुरंत कई थानों की फोर्स के साथ पुलिस क्षेत्राधिकारी मौके पर पहुंचे और दोनों पक्षों को कुतुबशेर थाने लाया गया।

यहां थाने पर घंटों तक हाई वोल्टेज ड्रामा चलता रहा। बाद में पुलिस ने अभिहित अधिकारी रणधीर सिंह की तहरीर पर सपा नेता मजहर हसन मुखिया और उनके बेटे समेत अन्य अज्ञात लोगों के खिलाफ धारा 323 धारा 353 धारा 504 धारा 506 धारा 342 धारा 511 धारा 392 के आरोपों में मुकदमा दर्ज कर लिया।

इन आरोपों में गिरफ्तारी बनती है लेकिन पुलिस ने सपा नेता को थाने से ही छोड़ दिया। उधर पिता के थाने से छूटते ही सपा नेता के बेटे ने डीआईजी शरद सचान को दिए एक प्रार्थना पत्र में कहा है कि खाद्य सुरक्षा विभाग की टीम उनके होटल पर खाना खाने आई थी और जब बिल मांगा गया ताे बिल को फाड़कर धमकी देने लगे। इसी दौरान दोनों पक्षों में कहासुनी हुई है।

सपा नेता के बेटे ने पूरे मामले की निष्पक्ष जांच कराए जाने की मांग की है। एसपी सिटी विनीत कुमार भटनागर का कहना है कि खाद्य सुरक्षा विभाग की टीम ढाबे पर गई थी जहां उनके साथ मारपीट हुई। अभिहीत अधइकारी की तहरीर पर मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। जल्द अभियुक्तों की गिरफ्तारी की जाएगी।

 

UP News से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Uttar Pradesh Facebook पर Like करें, Follow करें Twitter पर ..

Show More
shivmani tyagi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned