यूपी: तेल भरवाकर बिना पैसे दिए भाग रहे थे पुलिसकर्मी, पंप स्वामी घेरकर पकड़ा

Highlights

सिविल ड्रैस में सैंट्रों कार से जा रहे पुलिसकर्मियों ने सहारनपुर में पेट्राेल पंप से तेल भरवाया और पैसे दिए बगैर ही कार दाैड़ा दी। बाद में इन्हे घेरकर पकड़ लिया गया।

By: shivmani tyagi

Updated: 24 May 2020, 08:38 PM IST

सहारनपुर। लॉकडाउन ( lockdown ) में पुलिस ( up police ) के कई चेहरे सामने आ चुके हैं। अब ताजा मामला सहारनपुर का है। यहां सादी वर्दी में कार से जा रहे पुलिसकर्मियों ने पेट्रोल पंप से तेल भरवाया और पैसे दिए बगैर ही भागने की काेशिश करने लगे लेकिन पंप स्वामी ने कुछ ही दूरी पर इन्हे घेर लिया। बाद में दोनों काे पुलिस के हवाले कर दिया गया।

यह भी पढ़ें: OMG : प्रवासी श्रमिकों काे लेकर फिर बड़ी लापरवाही, पूर्वी यूपी के श्रमिकों काे गाेआ से सहारनपुर ले आई ट्रेन

मामला टपरी जंक्शन के पास का है। सैंट्रों कार में तीन लाेग सवार हाेकर जा रहे थे। इन्हाेंने टपरी स्टेशन के पास सतलक्षण किसान सेवा केंद्र ( पेट्राेल पंप ) से कार में पेट्रोल भरवाया और बगैर पैसे दिए ही कार दाैड़ा दी। सेल्समैन शिवकुमार ने शाेर मचाते हुए इनकी कार का शीशा पीटा ताे यह देखकर पंप स्वामी और उनके बेटे ने अपनी कार इस सैंट्रों कार के पीछे दाैड़ा दी।

यह भी पढ़ें: लॉकडाउन में ईदगाह है लॉक तो ईद पर घर में पढ़ें चाश्त की नमाज, धर्मगुरुओं ने की ये अपील

अभी तक किसी काे नहीं पता था कि कार में सवार युवक पुलिसकर्मी हैं। दरअसल यह तीनों ही सादी वर्दी में थे। इन्हे रास्तों के बारे में जानकारी नहीं थी और जब इन्हाेंने देखा कि पंप स्वामी पीछा कर रहा है ताे कार काे टपरी शराब फैक्ट्री की ओर दाैड़ा दिया। यहां आगे चलकर इन्हाेंने कार काे एक फार्म हाउस में घुसा दिया। यहां पर ये घिर गए और पीछे से आ रहे पंप स्वामी व सेल्समैन ने इन्हे पकड़ लिया।

यह भी पढ़ें: छह साल के मासूम के कातिल भी निकले नाबालिग, वजह कर देगी आपको सन्न

इसी बीच पुलिस भी आ गई। कार में सवार एक व्यक्ति ताे भागने में कामयाब हाे गया लेकिन दाे को माैके पर ही पकड़ लिया गया। पुलिस के पहुंचने पर पता चला कि दाेनों पुलिसकर्मी हैं। दाेनों शराब के नशे में लग रहे थे इस पर इनका मेडिकल परीक्षण कराया गया। पुलिस क्षेत्राधिकारी मुकेश चंद्र मिश्रा ने बताया कि पेट्रोल पंप स्वामी की ओर से पूरे मामले काेई तहरीर नहीं आई है। दाेनों का मेडिकल परीक्षण कराया गया है जिसके आधार पर इनके कृत्य की रिपाेर्ट सीनियर ऑफिसर काे भेजी जा ही है।

shivmani tyagi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned