scriptSaharanpur railway station is156 years old now building will be world | 150 साल से भी पुराना है सहारनपुर रेलवे स्टेशन, अब विश्वस्तरीय बनने जा रही इमारत | Patrika News

150 साल से भी पुराना है सहारनपुर रेलवे स्टेशन, अब विश्वस्तरीय बनने जा रही इमारत

locationसहारनपुरPublished: Dec 26, 2023 10:48:14 pm

Submitted by:

Shivmani Tyagi

अमृत भारत स्टेशन योजना के तहत सहारनपुर रेलवे स्टेशन को विश्वस्तरीय बनाया जा रहा है। हाल ही में पता चला है कि सहारनपुर स्टेशन का उद्घाटन 1868 में हुआ था।

sre.jpg
Saharanpur station
हिमाचल प्रदेश उत्तराखंड और हरियाणा की सीमा से सटे यूपी के शहर सहारनपुर का रेलवे स्टेशन 155 वर्ष से भी अधिक पुराना है। स्टेशन का इतिहास जानने के लिए रेलवे के अफसरों ने यह जानकारी जुटाई है। सहारनपुर रेलवे स्टेशन अपने आप में इसलिए भी ऐतिहासिक है क्योंकि यह ऐसा जिला है जिसकी सीमाएं तीन अलग-अलग राज्यों से जुड़ती हैं और माता वैष्णो देवी के लिए जाने वाली ट्रेनें भी सहारनपुर से होकर जाती हैं।
st.jpgदरअसल, भारतीय रेलवे ऐतिहासिक रेलवे स्टेशनों का महोत्सव मनाने जा रही है। इस उत्सव में सहारनपुर रेलवे स्टेशन का नाम भी शामिल किया जाना है। अभी तक सहारनपुर रेलवे स्टेशन पर जो जानकारी थी कि उनके मुताबिक सहारनपुर स्टेशन का 1885 तक ही इतिहास मिल रहा था लेकिन अब एक नई जानकारी से पता चला है कि यह स्टेशन 156 वर्षों पुराना है। आपको जानकर हैरानी होगी कि 14 नवंबर 1868 में सहारनपुर रेलवे स्टेशन का उद्घाटन तत्कालीन वायसराय जॉन लॉरेंस ने किया था। इसका पता आईआरएफसीए और जॉन लॉरेंस के जीवन परिचय से चला है। सीनियर सेक्शन इंजीनियर की टीम इस पर काम कर रही थी। इसी दौरान जॉन लॉरेंस का जीवन परिचय पढ़ने पर इस बात का पता चला।
sre_station.jpg
IMAGE CREDIT: social media
1868 में सभी के लिए खोल दिया गया था स्टेशन
अंग्रेजी शासन काल में सहारनपुर रेलवे स्टेशन दिल्ली-अंबाला-अमृतसर रेलवे लाइन का हिस्सा था। 14 नवंबर 1868 को इस रेलवे स्टेशन को आमजन के लिए खोलने की घोषणा की गई तो लोगों की खुशी का ठिकाना नहीं रहा। सहारनपुर रेलवे स्टेशन एक ऐसा स्टेशन है जो कभी नहीं सोता और 24 घंटे जागता रहता है। यहां 24 घंटे ट्रेनों का आवागमन रहता है। इसकी वजह सहारनपुर रेलवे स्टेशन का जंक्शन होना भी है। मुरादाबाद रेल खंड, दिल्ली रेल खंड और अंबाला रेल खंड तीनों ही लाइनें यहां पर जुड़ती हैं। दिल्ली के बाद सहारनपुर की ओर अकेला यही एक रेलवे स्टेशन है जहां पर 24 घंटे ट्रेनों का आवागमन रहता है।
sre_railway_station_news.jpgखंगाला जा रहा इतिहास
दरअसल भारतीय रेलवे ऐतिहासिक स्टेशनों का महोत्सव मनाने जा रहा है। ऐसे में देश भर के रेलवे स्टेशनों का इतिहास खंगाल जा रहा है। सहारनपुर रेलवे स्टेशन का इतिहास भी इसी कड़ी में खंगाला जा रहा है। सीनियर सेक्शन इंजीनियर पंकज कुमार ने इसकी पुष्टि की है। उन्होंने बताया कि वो अपनी टीम के साथ इस सहारनपुर रेलवे स्टेशन का इतिहास खंगाल रहे हैं। दो महीने की मेहनत के बाद उन्हे इस बात का पता चला कि यह स्टेशन 1868 में इस स्टेशन का उद्घाटन किया गया था।
sre_railway.jpgसोशल मीडिया पर बेहद पसंद की जाती हैं सहारनपुर रेलवे स्टेशन की तस्वीरें
सहारनपुर रेलवे स्टेशन जितना पुराना है उसकी भव्यता भी उतनी ही अधिक है। यहां कभी भाप के इंजनों की मरम्मत हुआ करती थी। आज भी वह शेड यहां मौजूद हैं, जहां पर भाप के इंजनों की देखभाल के साथ उनकी मरम्मत और मोड़ने का काम किया जाता था। यही वजह है कि आज भी लोग बड़े ही गर्व से सोशल मीडिया पर सहारनपुर रेलवे स्टेशन की तस्वीरें साझा करते हैं।

ट्रेंडिंग वीडियो