इस छाेटी सी नदी के लिए 28 काे जुटेंगे देशभर के दिग्गज ताे कमिश्नर-डीएम करेंगे सफाई, जानिए खासियत

shivmani tyagi | Publish: May, 18 2019 04:45:55 AM (IST) Saharanpur, Saharanpur, Uttar Pradesh, India

- बाबा रामदेव, स्वामी अवधेशानंद गिरी महाराज, स्वामी यतींद्र नाथ महाराज, स्वामी चिदानंद महाराज और पद्मश्री भारत भूषण हाेंगे विशेष मेहमान

- 28 मई काे मनाया जाएगा जलमहाेत्सव

सहारनपुर। शहर के लिए जीवनदायिनी कही जाने वाली पाव धाेई नदी को पुनः जीवित करने के लिए देशभर के बड़े धर्माचार्य सहारनपुर पहुंच रहे हैं। शहर के बीचो-बीच से बहने वाली पांव धोई नदी जो पिछले कुछ वर्षाें में गंदे नाले में तब्दील हो गई थी उसे एक बार फिर से जीवन मिलने वाला है। अगर पांव धोई नदी का जल स्वच्छ हो गया तो यह सहारनपुर के लिए जीवनदायनी और देशभर के लाेगाें के लिए एक नजीर एक उदाहरण बन जाएगी।

 

 

प्रशासनिक अफसर नदी में उतरकर करेंगे सफाई
28 मई को सहारनपुर में होने जा रहा जल महोत्सव इसलिए भी खास है क्योंकि यहां कमिश्नर से लेकर डीएम तक खुद पांव धोई में उतरकर नदी को साफ करेंगे। अफसरों का कहना है कि पांव धाेई में उतरकर उसे साफ करने का उद्देश्य सिर्फ श्रमदान नहीं बल्कि लोगों को जागरुक करना है। लोग प्रकृति के प्रति जागरूक हों इसी उद्देश्य के साथ प्रशासनिक अमला नदी में उतरकर सफाई करेगा और शहर के बीचोबीच से कलकल बहती हुई नदी को ही नहीं देश की सभी नदियों को साफ रखने का संदेश दिया जाएगा।

 

 

पहुंच रहे हैं यह बड़े धर्माचार्य
28 मई को सहारनपुर में आयोजित होने वाले जल महोत्सव में शिरकत करने के लिए देशभर के बड़े धर्माचार्य पहुंच रहे हैं। विश्व भर में अपनी पहचान रखने वाले योग गुरु बाबा रामदेव हेलीकाप्टर से पहुंचेंगे। हरिद्वार स्थित जूना अखाड़ा के पीठाधीश्वर आचार्य महामंडलेश्वर स्वामी अवधेशानंद गिरी जी महाराज भी इस महोत्सव में शामिल होने के लिए सहारनपुर पहुंच रहे हैं तो ऋषिकेश स्थित परमार्थ निकेतन आश्रम के स्वामी चिदानंद महाराज और महामंडलेश्वर स्वामी यतींद्र नाथ महाराज भी सहारनपुर आ रहे हैं। पद्म श्री भारत भूषण भी इस कार्यक्रम में बताैर विशेष मेहमान मौजूद रहेंगे।


यह चल रही हैं तैयारियां
जल महोत्सव की तैयारियां सहारनपुर में जोरों पर हैं। कमिश्नर सीपी त्रिपाठी का कहना है कि सहारनपुर में पाव धाेई नदी पर हाेने वाले जल महोत्सव का उद्देश्य लोगों को नदियों के प्रति जागरूक करना है। पिछले लंबे समय से यहां अभियान चल रहा है और काफी हद तक नदी को साफ किया जा चुका है। मुख्य रूप से पांव धाई नदी का सौंदर्यीकरण कराया जा रहा है और इसे एक पिकनिक स्थल के रूप में विकसित कराया जा रहा है। नदी पर एक भव्य चेक डैम का भी निर्माण करने की तैयारी है। नदी के किनारों को जोड़ने के लिए पैदल पुल भी बनाया जा रहा है। स्नान करने के लिए सुंदर घाट की व्यवस्था भी की जा रही है और प्रसिद्ध बाबा लाल दास बाड़े से बालाजी घाट के मध्य नदी को चैनेलाइजेशन करके नदी के दोनों किनारों पर पैदल पथ का निर्माण भी कराया जा रहा है।

 

 

जानिए पांव धोई नदी के बारे में कुछ खास बातें
पांव धोई नदी सहारनपुर शहर के बीचोबीच से बहती है। इस नदी का उद्गम स्थल भी सहारनपुर में ही है। ऐसी मान्यता है कि वर्षों पूर्व बाबा लाल दास हरिद्वार से गंगा की धारा सहारनपुर में लाए थे। स्थानीय लोगों की यह मान्यता है कि इस नदी में भी गंगा जल ही बहता है और यह पावन पतित गंगा का ही स्वरूप है। पिछले कई दशकों में उपेक्षा का शिकार हुई यह नदी धीरे-धीरे गंदे नाले का रूप ले चुकी थी लेकिन अब वर्तमान कमिश्नर सीपी त्रिपाठी ने इसको साफ कराने का बीड़ा उठाया है।

 

 

पहले भी चल चुके कई अभियान
सहारनपुर की लाइफलाइन कही जाने वाली पांव धोई नदी को स्वच्छ बनाने के लिए करीब एक दशक से अभियान चल रहे हैं। पूर्व मंडलायुक्त और पूर्व नगर आयुक्त की ओर से इस नदी को साफ कराने के लिए कई बार अभियान चले। नगर निगम की जेसीबी ट्रक और कर्मचारियों को लगाया गया। कई महीनों तक चले साफ सफाई अभियान में करोड़ों रुपया खर्च किया गया और हजारों घंटों शहर की अलग-अलग संस्थाओं के वालंटियर ने भी यहां श्रमदान किया। बावजूद इसके आज तक पांव धोई नदी साफ नहीं हो पाई।

 

शहर के लाेग ही करते हैं गंदा

शहर के ही लोग इस नदी में कूड़ा डाल देते हैं। इनको रोकने के लिए नदी के दोनों और लोहे की दीवारें भी खड़ी की गई थी लेकिन शहरवासियों ने उन दीवारों को तोड़कर भी कूड़ा डालना शुरू कर दिया। अब देखना यह है कि जब देश-भर के विश्व गुरु इस नदी को स्वच्छ रखने का संदेश देने के लिए खुद चलकर सहारनपुर आ रहे हैं तो सहारनपुर के लोग उनकी बात को कितना समझ पाएंगे बड़ा सवाल यह है कि क्या कभी पांव धोई नदी स्वच्छ हो पाएगी ?

UP News से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Uttar Pradesh Facebook पर Like करें, Follow करें Twitter पर ..
UP Lok sabha election Result 2019 से जुड़ी ताज़ा तरीन ख़बरों, LIVE अपडेट तथा चुनाव कार्यक्रम के लिए Download करें patrika Hindi News App

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned