वीडियो में देखें, उत्तर प्रदेश की सरकारी बसों में देसी जुगाड़

Rajkumar Pal

Publish: Sep, 16 2017 03:57:22 (IST)

Saharanpur, Uttar Pradesh, India

शिवमणि त्यागी/सहारनपुर। आपने वेस्ट यूपी के गांव-कस्बों से लेकर शहरों में जुगाड़ की बहुत सी कहानियां सुनी हाेंगी। जुगाड़ वाहन भी सड़काें आैर खेताें में फर्राटे भरते हुए जरूर देखें हाेंगे लेकिन क्या आपने कभी सरकारी वाहन में जुगाड़ देखा है? चलिए हम आपकाे सरकारी वाहन यानि यूपी राेडवेज की बसाें में देसी जुगाड़ का फार्मुला दिखाते हैं।

बरसात में यूपी राेडवेज की बसें टपकने लगती हैं आैर इन बसाें काे वाटर प्रुफ बनाने के लिए बसाें की छताें काे त्रिपाल से देसी जुगाड़ किया गया है। यह जुगाड़ या कह लीजिए अविष्कार रोडवेज की सहारनपुर वर्कशॉप में किया गया है। यहां पर एक दाे नहीं बल्कि, रोडवेज की पुरानी हाे चुकी कई बसों की छतों पर त्रिपाल बिछाकर उन्हें वाटर प्रुफ बनाया गया है। बसाें की छत पर यह जुगाड़ सहारनपुर रीजन की वर्कशॉप में ही किया गया है। काले आैर नीले रंग की त्रिपाल काे बस की छत पर फिक्स कर दिया गया है आैर 12 महीनें यह त्रिपाल बस की छत पर लगी रहती है। राेडवेज के अफसराें का कहना है कि इससे बरसात में बस टपकती नहीं आैर यात्री बिना भीगे बसाें में सफर करते हैं। विशेषज्ञाें की माने ताे बरसात में पॉलीथिन की त्रिपाल लगाई जा सकती है लेकिन सामान्य माैसम आैर धूप में बस की छत पर काले रंग की त्रिपाल लगाने से बस का तापमान बढ़ जाएगा आैर इससे यात्रियाें काे परेशानी हाे सकती है।

क्या कहते हैं परिचालक

हमने राेडवेज के सहारनपुर बस अड्डे पर हरिद्वार जाने के लिए तैयार खड़ी एक एेसी बस परिचालक से बात की जिसकी छत पर पूरी तरह से त्रिपाल लगाई गई थी। परिचालक ने बताया कि बस 2010 मॉडल है। बॉडी पुरानी हाेने के कारण बरसात में टपकने लगती है। बरसात में जब बस की छत टपकती है ताे यात्री उनसे शिकायत करते हैं। इसकी शिकायत उन्हाेंने वर्कशॉप में की थी। पहले वर्कशॉप से काफी प्रयास किए गए लेकिन तेज बरसात में फिर से बस की छत टपकने लगती है। एेसे में उन्हाेंने त्रिपाल लगाकर उसे छत पर फिक्स कर दिया है आैर कितनी भी तेज बरसात हाेती है ताे बस टपकती नहीं।

क्या कहते हैं अफसर

एआरएम यजुवेंद्र सिंह ने पूछने पर बताया कि सहारनपुर डिपाे में एेसी कई बसें हैं, जिनकी छत पर त्रिपाल लगाई गई है। उनके मुताबिक पुरानी हाेने के बाद छत ज्वाइंट से टपकने लगती है। एेसे में टपकन काे राेकने के लिए यह जुगाड़ किया जाता है।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned