ये बच्चे बाेल नहीं सकते, इन्हाेंने एेसे जीत लिया महिलाआें का दिल, देंखे वीडियाे

shivmani tyagi | Publish: Oct, 13 2018 08:28:44 PM (IST) | Updated: Oct, 13 2018 08:28:45 PM (IST) Saharanpur, Uttar Pradesh, India

संकल्प संस्था के बच्चाें ने दीवाली से पहले बेकार की चीजाें में रंगभरकर उन्हे कर दिया जीवंत आैर दिया ये बड़ा संदेश

सहारनपुर।

Special needs children यानि एेसे बच्चे जिन्हे हम सामान्य बच्चे नहीं समझते। इन बच्चाें का जीवन भले ही बेरंग हाे लेकिन इन्हाेंने दीवाली से पहले बेकार की चीजाें में रंग भरकर उन्हे ना केवल जीवंत कर दिया है बल्कि दुनिया काे संदेश दे दिया है कि वह भी किसी से कम नहीं हैं।

ये बच्चे बाेल नहीं सकते लेकिन इन्हाेंने अपनी कल्पनाआें काे कागज पर उकेरकर बता दिया है कि इन बच्चाें काे दया नहीं प्रेम चाहिए अगर आप इन बच्चाें से प्रेम करेंगे आैर इनके हुनर पर विश्वास करेंगे ताे शायद ही काेई एेसा कार्य हाेगा जिसे यह बच्चे नहीं कर पाएंगे।

यह भी खबर हैः साहब ''मां'' का दिल टूट जाएगा बस एक माैका दे दाे, देखिए सेना में भर्ती हाेने काे क्या-क्या जतन कर रहे युवा

हम बात कर रहे हैं मानसिक रूप से दिव्यांग बच्चाें की। यहां सहारनपुर में संकल्प संस्था एेसे ही बच्चाें के लिए काम करती है। आवास विकास के पास स्थित रूपाली विहार कालाेनी में संकल्प संस्था का एेसे बच्चाें के लिए स्कूल चलता है। इस स्कूल में एेसे बच्चाें काे पढ़ाया जाता है आैर इनसे कुछ क्रिएटिव करवाया जाता है। दीवाली से पहले यहां इन बच्चाें ने अपनी टीचर्स के साथ मिलकर सजावट के अलग-अलग सामान बनाएं। शनिवार काे यहां इन्ही बनाए गए समान की प्रदर्शनी लगाई गई। आपकाे यह जानकर हैरानी हाेगी कि इन बच्चाें के बनाए सामान हाथाें-हाथ बिक गए। यहां प्रदर्शनी देखने आए शहरवासियाें ने इनके सामान खरीदे ताकि इन बच्चाें के चेहराें पर मुस्कान आ सके। जब इन इन बच्चाें की बनाई हुई सजावट की वस्तुएं हाथ के हाथ बिकी ताे अपनी मेहनत का फल देखकर इनके चेहरे भी खिल उठे।

यह भी खबर हैः यूपी के इस जिले में दिन में ही छा गया अंधेरा आैर फिर गिरने लगे पेड़, देखिए वीडियाे

कृति रखा गया प्रदर्शनी का नाम

इस प्रदर्शनी का नाम कृति रखा गया। प्रदर्शनी देखने के लिए डीपीएस, स्माल वंडर, स्प्रिंग बेल्स के अलावा कई स्कूलाें के बच्चें आए। इनके अलावा रीना अग्रवाल, डॉक्टर आरबीएस रावत, डॉक्टर अरुण गुप्ता, कपिल वत्स, एयरफाेर्स स्टेशन से रीनू, हिमा तिवारी, साेनिया जैन, रीना अग्रवाल ने मुख्य रूप से खरीददारी की। इस प्रदर्शनी में मूक बधिर बच्चे अनुराग, साैरभ, रितु, रजत, कशिश की बनाई वस्तुआें काे दिखाया गया था। इस आयाेजन में चंद्रकांत अग्रवाल, डा. रेखा कुमार, आभा रहेजा, नाेनिता अग्रवाल, शिवानी सिंह, नितिश, काेमल आदि का सहयाेग रहा।

Ad Block is Banned