भारत बंदः इस वीडियाे ने कर दिया खुलासा दवा व्यापारियाें ने क्याें बंद रखे प्रतिष्ठान, आप भी देखिए

shivmani tyagi | Publish: Sep, 28 2018 08:53:39 PM (IST) | Updated: Sep, 28 2018 08:53:40 PM (IST) Saharanpur, Uttar Pradesh, India

दवा व्यापारियाें ने अपने प्रतिष्ठान बंद रखें बंद दिया धरना, जन आैषधि केंद्राें पर लगी भीड़ ताे प्रधानमंत्री नरेंद्र माेदी के लिए कह दी ये बड़ी बात

सहारनपुर। दवा व्यापारी दवाआें की अॉन लाईन ट्रेडिंग आैर फार्मेसिस्ट की कमी से परेशान हैं। यही कारण रहा कि, भारत बंद के आह्वान में उत्तर प्रदेश के दवा व्यापारी भी शामिल हाे गए आैर उन्हाेंने अपने प्रतिष्ठान बंद करके धरना देते हुए साफ कह दिया कि यदि उनकी यह परेशानी दूर नहीं हुई ताे वह अनिश्चितकालीन धरना देंगे।

भारत बंद के दौरान सहारनपुर में भी मेडिकल एजेंसी और मेडिकल स्टोर बंद रहे। इससे लाेगाें काे भारी परेशानी उठानी पड़ी लेकिन जन औषधि केंद्र खुले होने से लोगों को राहत मिली और प्रधानमंत्री जन औषधि केंद्रों पर दवाई लेने के लिए लोगों की भीड़ दिनभर लगी रही। पीडीएफ यूपी के आह्वान पर जिले के सभी थोक और फुटकर दवा व्यापारियों ने अपनी दुकानें बंद रखी और ई ट्रेडिंग के विरोध में सहारनपुर के बीचोबीच श्रीराम चौक पर धरना दिया। इस धरने की अध्यक्षता कर रहे सुशील त्यागी और संचालन कर रहे महेश सेठ ने कहा कि अगर सरकार ने दमनकारी नीति को वापस नहीं लिया तो यह बंद अनिश्चितकाल के लिए भी करना पड़ सकता है। व्यापारियों ने उप जिलाधिकारी के माध्यम से देश के प्रधानमंत्री को ज्ञापन प्रेषित किया और इस ज्ञापन में मुख्य रूप से कहा गया कि अगर फुटकर ड्रग लाइसेंस के अनुपात में फार्मासिस्ट की कमी को उत्तर प्रदेश में सरकार ने पूरा नहीं किया तो वह दिन दूर नहीं होगा जब 90% खुदरा दुकान ही बंद हो जाएंगे और अगर ऐसा हुआ तो गांव देहात में जहां देश की सर्वाधिक जनता निवास करती है वहां दवाआें का अकाल पड़ जाएगा।

यह भी पढ़ेः मुख्यमंत्री याेगी आदित्यनाथ ने सहारनपुर में बुलाई संगठन की मीटिंग, कर सकते हैं ये बड़ी घाेषणा

धरना देने वालों ने मुख्य रूप से संस्था के चेयरमैन अशोक सडाना वरिष्ठ उपाध्यक्ष अनिल खुराना अनिल रोड सतीश ठकराल, जेबी सिंह, राजेंद्र तोमर, हरीश, रितेश अनेजा, गोपाल सैनी, विनोद खुराना, हरीश खुराना, हैप्पी अग्रवाल, अरुण रोहिला, अशोक ठक्कर, प्रेम सागर, राजेश विरमानी राजेश तायल, नीरज अग्रवाल, राज कमल मित्तल, संजय डाबर प्रवीण गुप्ता, जी एस भाटिया, राजेंद्र कुमार, संजीव गोयल आदि शामिल रहे।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned