यूपी में बेखौफ बदमाशों का आतंक, पुलिस पर की गोलियों की बौछार

हत्या कर डकैती डालने वाले बदमाशों ने पुलिस पर की फायरिंग, 3 गिरफ्तार

By: lokesh verma

Published: 11 Dec 2017, 11:51 AM IST

सहारनपुर। यूपी में बदमाश कितने बेखौफ हो गए है, इसकी एक बानगी सोमवार को सहारनपुर में देखने को मिली। जहां बदमाशों ने हत्या कर लूट की वारदात को अंजाम दिया और फरार हो गए । हालांकि पुलिस ने सतर्कता और गंभीरता दिखाते हुए बदमाशों को धर दबोचा। बता दें कि पुलिस को मुखबिर से बदमाशों के छिपे होने की सूचना मिली थी। जिसके बाद आनन फानन में पुलिस की टीम मौके पर पहुंची और बदमाशों के गिरोह की घेराबंदी की। लेकिन इसी दौरान दुस्साहसिक ढंग से गिरोह के सदस्यों ने पुलिस पर गोलियां बरसा दी। जिसके बाद दोनों ओर से हुई फायरिंग में पुलिस ने इस गिरोह के तीन सदस्यों को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस का दावा है कि गिरफ्तार तीनों बदमाशों की निशानदेही पर डकैती के दौरान लूटी गई रकम का कुछ हिस्सा और एक घड़ी बरामद हुई है जिसे पीड़ित परिवार के सदस्यों ने पहचान लिया है।

ऐसे दिया वारदात को अंजाम
जानकारी के मुताबिक 24 नवंबर की रात को नकुड थाना क्षेत्र के गांव भूरी बांस में हथियारों के बल पर बदमाशों ने डकैती की वारदात को अंजाम दिया था। बदमाश आधी रात को गोवर्धन नाम के एक शख्स के घर में घुसे और उन्होंने गोवर्धन के दोनों बेटे देवराज और सुबोध को मारपीट कर घायल कर दिया। वहीं जब पीड़ित गोवर्धन ने डकैती की वारदात का विरोध किया तो बदमाशों ने उसकी पीट-पीटकर हत्या कर दी। बदमाशों के फरार हो जाने के बाद देवराज के बेटे देवराज की ओर से दी गई तहरीर के आधार पर नुकुड़ पुलिस ने मामला दर्ज किया । इस घटना के बाद से क्षेत्र में दहशत का माहौल था और डकैतों का कोई सुराग नहीं लग पा रहा था।

पुलिस की गिरफ्त में आरोपी
अब पुलिस ने डकैती की इस वारदात को अंजाम देने वाले बदमाशों में से तीन बदमाश अमित पुत्र अनीस निवासी नाहिद कॉलोनी और शेरअली पुत्र अनीश नाहिद कॉलोनी थाना कैराना जनपद शामली समेत आदिल पुत्र अनीश नाहिद कॉलोनी थाना कैराना जनपद शामली को गिरफ्तार कर लिया। इसके बाद पुलिस ने गिरफ्तार तीनों बदमाशों को न्यायालय के समक्ष पेश किया जहां से इन्हें जेल भेज दिया गया है।

लूट के बाद इसलिए की दी थी हत्या
पुलिस के मुताबिक पकड़े गए बदमाशों ने पूछताछ में बताया कि डकैती के दौरान गोवर्धन उनका विरोध कर रहा था और धमकी देने पर भी वह नहीं माना था और लगातार शोर मचा रहा था ऐसे में उन्होंने जानबूझकर उसकी हत्या कर दी थी।

Show More
lokesh verma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned