मैं किश्त नहीं चुका पा रहा हूं यह लिखकर परिवार के मुखिया ने लगा ली फांसी

  • 15 साल पहले लिया था 4 लाख रुपये का कर्ज
  • दाे हजार से बढ़कर 3500 हाे गई थी किश्त

By: shivmani tyagi

Updated: 25 Nov 2020, 08:50 AM IST

पत्रिका न्यूज नेटवर्क

सहारनपुर ( Saharanpur ) ब्याज पर लिए चार लाख रुपये नहीं लाैटा पाने और सूदखोर के लगातार दबाव से परेशान एक युवक ( परिवार के मुखिया ) ने अपनी जीवन लीला ही समाप्त कर ली। युवक का शव घर की दूसरी मंजिल पर स्थित कमरे में फंदे पर लटका मिला। घटना से परिवार में काेहराम मच गया। पुलिस काे एक नाेट भी कमरे से मिला है जिसके आधार पर मामले की जांच की जा रही है।

यह भी पढ़ें: सहारनपुर में मासूम की अपहरण के बाद हत्या, परिवार में मचा काेहराम

घटना गागलहेड़ी थाना क्षेत्र के गांव कैलाशपुर की है। मंगलवार काे इसी गांव के रहने वाले 40 वर्षीय राजेश ने घर में ही फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। राजेश ने मरने से पहले एक सुसाइड नाेट में लिखा कि '15 साल पहले मैने गांव के ही रहने वाले अनुज से 4 लाख रुपये उधार लिए थे। इस रकम की दाे हजार रुपये किश्त थी। अब किश्त बढ़कर 3500 रुपये हाे गई है जाे मैं नहीं चुका पा रहा हूं। ऐसे में मेरे पास काेई और रास्ता नहीं है मैं आत्महत्या कर रहा हूं।

यह भी पढ़ें: मसूरी घूमने गए दिल्ली के युवक-युवतियों की कार गंगनहर में समाई, युवती की माैत दाे लापता

पुलिस ( Saharanpur Police ) ने सुसाइड नाेट और मृतक के भाई की ओर से आई तहरीर के आधार पर मामला दर्ज कर शव काे पाेस्टमार्टम के लिए भिजवाया। पुलिस का कहना है कि पाेस्टमार्टम रिपाेर्ट आने के बाद माैत के कारणाें का साफ हाेगा। फिलहाल तहरीर के आधार पर मामला दर्ज कर कार्यवाही शुरू कर दी गई है।

shivmani tyagi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned