शामली गैस रिसाव: फिर बिगड़ी 9 बच्चों की तबीयत, प्राइवेट हॉस्पिटल ने इलाज करने से किया इनकार

pallavi kumari

Publish: Oct, 12 2017 03:23:48 (IST)

Saharanpur, Uttar Pradesh, India
शामली गैस रिसाव: फिर बिगड़ी 9  बच्चों की तबीयत, प्राइवेट हॉस्पिटल ने इलाज करने से किया इनकार

शामली गैस रिसाव से पीड़ित नौ बच्चों की आज फिर अचानक तबीयत बिगड़ गई। प्राइवेट हॉस्पिटल ने इलाज करने से इनकार कर दिया।

शामली। यूपी के शामली में चीनी मिल से गैस रिसाव मामले ने एक बार फिर तुल पकड़ लिया है। जानकारी के मुातबिक, एक बार फिर नौ बच्चों की अचानक तबीयत बिगड़ गई है। बताया जा रहा है कि ये सभी बच्चे अनंता नामक प्राइवेट हॉस्पिटल में भर्ती थे। गुरुवार को इन बच्चों की तबीयत ज्यादा बिगड़ गई, जिसके बाद अस्पातल प्रशासन ने उनका इलाज करने से इनकार कर दिया। परिजन ने किया हंगामा...

प्राइवेट हॉस्पिटल ने जब उन बच्चों का इलाज करने से इनकार कर दिया तो परिजन अपने बच्चों को लेकर सरकारी अस्पताल पहुंच गए। लेकिन, हॉस्पिटल प्रशासन ने मामले को गंभीरता से नहीं लिया। हॉस्पिटल की लापरवाही देख परिजन आपे से बाहर हो गए और जमकर हंगामा करना शुरू कर दिया। परिजनों का आरोप है कि प्राइवेट हॉस्पिटल ने यह कहकर उन्हें वहां से निकाल दिया कि सरकारी हॉस्पिटल में डॉक्टरों की एक विशेष टीम आई है, जो इन सबका इलाज करेगी। लेकिन, जब वे सरकारी हॉस्पिटल पहुंचे तो डॉक्टरों की कोई विशेष टीम वहां नहीं थी। दोनों तरफ से लापरवाही देख परिजन गुस्से में आ गए और हॉस्पिटल के बाहर हंगामा करना शुरू कर दिया। हालांकि, कुछ समय बाद हॉस्पिटल प्रशासन ने उन बच्चों का ट्रीटमेंट करना शुरू कर दिया, लेकिन ऑक्सीजन की कमी के कारण उन सभी बच्चों को मेरठ रेफर कर दिया गया। लेकिन, अचानक बच्चों की तबीयत बिगड़ने से कई सवाल भी खड़े हो गए हैं। खासकर, जब सीएम ने खुद जिला प्रशासन को बच्चों की इलाज में किसी भी तरह की लापरवाही नहीं होने के निर्देश दिए थे। इधर, घटना की जांच करने पहुंची फॉरेंसिक टीम भी कोई जवाब देने के लिए तैयार नहीं है। बता दें कि मंगलवार को एक चीनी मिल से जहरीली गैस रिसाव होने से तीन सौ से ज्यादा बच्चे बीमार हो गए थे। जिसके बाद पूरे इलाके में अफरा-तफरी मच गई थी।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned