बॉलीवुड एक्टर सोनू सूद का एक और नेक काम

पंजाब में जहरीली शराब के कारण रिक्शाचालक के अनाथ हुए चार बच्चों को गोद लेंगे

By: Bhanu Pratap

Updated: 08 Aug 2020, 06:58 PM IST

संगरूर/चंडीगढ़। बॉलीवुड अभिनेता सोनू सूद ने कोरोना महामारी में पीड़ितों की मदद करके खूब वाहवाही बटोरी है। वे आज भी लोगों की मदद के लिए तत्पर हैं। उन्होंने पंजाब में जहरीली शराब के कारण अनाथ हुए चार बच्चों को गोद लेकर पढ़ाई का जिम्मा लिया है। इसके लिए हर कोई खुले दिल से सोनू सूद की सराहना कर रहा है।

यह भी पढ़ें

जहरीली शराब से पति मरा, गम में पत्नी, चारों बच्चों को उठा ले गया कोई

देखभाल करेंगे सोनू सूद
जहरीली शराब से तरनतारन के गांव मुरादपुर के सुखदेव सिंह (रिक्शा चालक) की मौत हो गई थी। इस गम में उसकी पत्नी ज्योति की मौत हो गई। इसके साथ ही इनके चार बच्चे 13 साल का करनबीर सिंह, 11 साल का गुरप्रीत सिंह, 9 साल की अर्शप्रीत सिंह और 7 साल के संदीप सिंह अनाथ हो गए। फिलहाल बच्चों की कोई देख-रेख करने वाला नहीं है। सोनू सूद इन बच्चों के मां-बाप की तरह देखभाल करेंगे। चारों बच्चों को पंजाब में फाजिल्का के माता छाया आश्रम में रखा जाएगा।

children

रिश्तेदार के पास हैं चारों बच्चे

अनाथ हुए चार बच्चों को एनजीओ चलाने वाले गगनदीप सिंह अपने घर ले गए थे। बच्चों के चाचा मनजीत सिंह और चाची कमलजीत कौर ने बताया कि जिला बाल सुरक्षा अधिकारी राजेश कुमार के सहयोग से चारों बच्चों को वापस घर लाया गया। इन बच्चों की खबर प्रकाशित होने के बाद सोनू सूद ने चारों बच्चों को गोद लेने का फैसला किया। फिलवक्त, चारों बच्चे अपने रिश्तेदारों के पास रह रहे हैं।

यह भी पढ़ें

पाकिस्तान से चल रहा एक और तस्करी गैंग, बीएसएफ का सिपाही भी गिरफ्तार

113 लोगों की मौत

जहरीली शराब से पंजाब के तरनतारन, अमृतसर और बटाला (गुरदासपुर) में 113 लोगों की मौत हुई है। पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने मृतकों के परिवार को 5 लाख रुपये और सरकारी नौकरी देने की घोषणा की है। सुखदेव सिंह के बच्चों को सरकारी नौकरी मिल नहीं सकती क्योंकि नाबालिग हैं। हां, पांच लाख रुपये जरूर मिल सकते हैं।

Show More
Bhanu Pratap
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned