लेह में शहीद पंजाब के सपूत सलीम खान को दफनाया गया

पंजाब के मुख्यमंत्री ने लांस नायक सलीम खान के परिजन को 50 लाख रुपये और नौकरी देने का किया ऐलान

By: Bhanu Pratap

Published: 27 Jun 2020, 10:06 PM IST

चंडीगढ़। पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने शनिवार को लांस नायक सलीम खान जिसने लद्दाख में ड्यूटी निभाते हुए अपनी जान कुर्बान कर दी, के एक पारिवारिक सदस्य को सरकारी नौकरी और परिवार को 50 लाख रुपए की ऐक्स ग्रेशिया ग्रांट मुआवजे के तौर पर देने का ऐलान किया। बंगाल इंजीनियर ग्रुप का लांस नायक सलीम खान 25 जून को लेह में लाइन ऑफ एक्च्यूल कंट्रोल पर नदी में नाव पलटने से शहीद हो गए थे।

मुख्यमंत्री की संवेदना

भारत-चीन सरहद के नजदीक श्योक में अपनी जान देने वाले पटियाला के 24 वर्षीय नौजवान सैनिक के परिवार के साथ अपनी हमदर्दी जाहिर करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार उनके परिवार की हर संभव मदद करेगी और पूर्ण सहयोग देगी। इससे पहले मुख्यमंत्री ने ट्वीट करते हुए लिखा, ‘‘लद्दाख में लांस नायक सलीम खान के देहांत की खबर सुनकर बहुत दुख हुआ। वह पटियाला जिले के गाँव मरदांहेड़ी का रहने वाला था। उसके परिवार के साथ मेरी दिली हमदर्दी है। देश अपने बहादुर सैनिक को सलाम करता है। जय हिंद।’’

गांव में दफनाया या

सलीम खान के पार्थिव शरीर को आज उसके गाँव में पूरे सैनिक सम्मान के साथ दफनाया गया। राज्य सरकार की तरफ से कैबिनेट मंत्री साधु सिंह धर्मसोत ने श्रद्धाँजलि भेंट की। 996 में जन्मे सलीम खान फरवरी 2014 में भारतीय सेना की बंगाल इंजीनियरिंग रेजिमेंट में शामिल हुए। सलीम के परिवार में मां, एक शादीशुदा बहन सुल्ताना और एक बड़ा भाई नियामत अली हैं। सलीम खान के पिता मंगलदीन भी रिटायर फौजी थे, जिनकी बाद में मौत हो गई थी। मंगलदीन आर्मी में ड्यूटी के दौरान एक हादसे में घायल हो गए थे। इसके बाद वह सेवानिवृत्त हो गए थे।

Show More
Bhanu Pratap
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned