छेड़खानी के मामले में दो गांव के लोग आमने-सामने, जमकर चला लाठी- डंडा, फायरिंग

छेड़खानी के मामले में दो गांव के लोग आमने-सामने, जमकर चला लाठी- डंडा, फायरिंग

Sunil Yadav | Publish: Jul, 13 2018 06:43:04 PM (IST) Sant Kabir Nagar, Uttar Pradesh, India

12 लोग नामजद, 50-60 अज्ञात पर मुकदमा

संत कबीर नगर. जिले की धनघटा तहसील के महुली क्षेत्र अन्तर्गत छेड़खानी के विवाद में दो गांवों के लोग बुधवार की रात आपस में भिड़ गए। इस दौरान जमकर ईट-पत्थर और लाठी-डंडे चले और फायरिंग भी की गई। इस घटना में छह लोगों के घायल होने की सूचना है। घटना को लेकर दोनों गांवों में तनाव है। एएसपी और सीओ ने रात में ही मौके पर पहुंच कर घटना के बाबत जानकारी ली। पुलिस द्वारा इस मामले में 12 नामजद और 50-60 अज्ञात के खिलाफ बलवा, मारपीट, हत्या के प्रयास, छेड़खानी और लूट आदि संगीन धाराओं में मुकदमा दर्ज किया है।

 

पीड़ित महिला का आरोप है कि बुधवार रात वह अपनी सहेली के साथ गांव के पश्चिमी सीवान में शौच के लिए गई थी। इस दौरान सीवान में दूसरे गांव के दीपू यादव और अजय ने महिलाओं के साथ छेड़खानी शुरू कर दी। जिसके बाद महिलाओं ने विरोध करते हुए शोर मचाया तो दोनों युवक कान का झाला और मंगल सूत्र खींच कर भागने लगे। महिलाओं का शोर सुनकर गांव के युवकों ने उनका पीछा किया लेकिन वे भागने में सफल हो गए। और कुछ समय बाद उसी गांव के कपिल यादव, भोला यादव, सर्वेश यादव, विनोद यादव, सोनू यादव, बग्गड़ यादव, धर्मजीत यादव, रामभवन यादव, अखिलेश यादव व 50-60 अज्ञात लोग लाठी-डंडा, भाला आदि लेकर उसके गांव पर धावा बोल दिया।

 

आरोप है कि विपक्षी दीपू आदि ने अपने भाई चंद्रजीत यादव की लाइसेंसी बंदूक से फायरिंग शुरू कर दी। इस फायरिंग में गांव के सदानंद, गोविंद और प्रद्युम्न को छर्रे लगे हैं। आरोपियों ने सुनील, राजू और सूरज को मारपीट कर बुरी तरह घायल कर दिया। पुलिस ने इस मामले में 12 नामजद और 50-60 अज्ञात के खिलाफ बलवा, मारपीट, गाली गलौज, छेड़खानी, लूट, हत्या का प्रयास, और षड्यंत्र के तहत मुकदमा दर्ज किया। वहीं घटना के बाद से दोनों गांव में तनाव है। गिरफ्तारी के डर से गांव के पुरुष फरार हो गए हैं। एएसपी असित श्रीवास्तव और सीओ अशोक कुमार मिश्र ने रात में ही घटना स्थल पर पहुंच कर जायजा लिया और लोगों के जानकारी ली। प्रभारी एसओ रणविजय सिंह ने बताया कि इस मामले में केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी गई है। जल्द ही सभी आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

Ad Block is Banned