विशेष कीर्तन दीवान स्त्री सत्संग से दिया गुरु गोविंद सिंह का पावन संदेश

प्रकाश पर्व पर कार्यक्रम: अटूट लंगर में शामिल हुए हजारों लोग

By: Sajal Gupta

Published: 03 Jan 2020, 05:22 PM IST

सतना सरबंसदानी साहब गोविंद सिंह का 353वां प्रकाश उत्सव उत्साहपूर्वक मनाया गया। सिंधी कैंप स्थित श्री गुरुद्वारा कलगीधर सिंह सभा में गुरुवार को विशेष दीवान कीर्तन, स्त्री सत्संग व अटूट लंगर का आयोजन किया गया। इसमें सैकड़ों लोग शामिल हुए। रुढ़की से आए रागी जत्थे ने अपनी मधुर वाणी से संगत को निहाल किया। श्री गुरुद्वारा कलगीधर सिंह सभा के अध्यक्ष प्रदुमन सिंह सलूजा ने बताया कि गुरु गोविंद सिंहजी के ३५३वें प्रकाश उत्सव के उपलक्ष्य पर २५ नवंबर से अखंड पाठ साहब किया जा रहा था। गुरुवार को सुबह ९ बजे इसका विधि पूर्वक समापन किया गया। इसके बाद ९ से ९.३० बजे तक गुरुग्रंथ साहिब की आरती की गई। सुबह १० बजे विशेष कीर्तन दीवान शुरू किया गया। दोपहर २ बजे तक इसमें इंदौर से आए प्रसिद्ध रागी जत्थे भूपेंद्र सिंह, स्त्री सत्संग व गुरुघर के वजीर ज्ञानी जगदीश सिंह के जत्थे ने संगत को गुरुवाणी कीर्तन व मुधर कथा से निहाल किया। दोपहर २ बजे अरदास के साथ विशेष कीर्तन दीवान का समापन किया गया। इसके बाद गुरु का अटूट लंगर वितरित किया गया। इसमें ढाई हजार लोगों के शामिल किया गया है।
बच्चों ने दी प्रस्तुतियां
गुरु गोबिंद सिंह के प्रकाश उत्सव का दूसरा चरण शाम ८ बजे शुरू हुआ। इसमें समाज के छोटे-छोटे बच्चों ने गुरुजी के इतिहास एवं शब्द कीर्तन की प्रस्तुति दी गई। ९.३० बजे तक बच्चों का दीवान चला। उन बच्चों को गुरुद्वारा प्रबंधन कमेटी ने प्रोत्साहन पुरस्कार देकर सम्मानित किया गया। उसके बाद गुरुघर के वजीर ज्ञानी जगदीश सिंह के जत्थे ने अपने मुधरमय कीर्तन से संगत का निहाल किया। रात १० बजे से रागी भाई भूपेन्द्र ङ्क्षसह के जत्थे ने कीर्तन व गुरुवाणी से रात १ बजे तक संगत को निहाल किया। गुरुजी के जन्मोत्सव की खुशी में गुुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी न आकर्षक आतिशबाजी की। श्री गुरुद्वारा कलगीधर सिंह सभा के अध्यक्ष सरदार प्रदुमन सिंह सलूजा व गुरुद्वारा नानक दरबार के अध्यक्ष सरदार लजपाल सिंह भाटिया ने समाज के सभी नानक नाम लेवा संगत को कार्यक्रम में सहयोग के लिए धन्यवाद दिया।

Sajal Gupta
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned