73rd independence day 2019: आजादी के 73 साल बाद भी सड़क को मोहताज सेमरिया गांव के लोग

73rd independence day 2019: आजादी के 73 साल बाद भी सड़क को मोहताज सेमरिया गांव के लोग
73 independence day 2019 semaria village : People Enchanted by road

Suresh Kumar Mishra | Publish: Aug, 15 2019 02:13:03 PM (IST) Satna, Satna, Madhya Pradesh, India

- सतना जिले का एक ऐसा गांव जहां आज तक नहीं बन पाई सड़क
- अमरपाटन जनपद पंचायत के सेमरिया गांव का मामला

सतना। जिले में एक गांव ऐसा भी है जो आजादी ( independence day ) के 73 साल बाद भी सड़क न बिहीन है। बताया गया कि जिला मुख्यालय से करीब 45 किमी. दूर एनएच-7 के किनारे बसा अमरपाटन ( amarpatan ) जनपद के सेमरिया पंचायत ( semaria village ) का बीरभद्र टोला और राइदाई टोला के करीब 350 ग्रामीण मतदाता बारिश के समय में अपने-अपने घरों में कैद हो जाते है।

आलम है कि इन दो टोलों में टै्रक्टर पहुंचना तो दूर पैदल चलना भी मुश्किल हो जाता है। बारिश के समय में मुख्य मार्ग पर घुटनों तक पानी भरा हुआ है। रास्ता किधर है किसी को पता नहीं चलता। सब अंदाज बस यात्रा करते रहते है। गनीमत है कि आज तक बारिश के समय में कोई बड़ा हादसा नहीं हुआ। वरना शासन-प्रशासन हाथ मलता रह जाता।

73 independence day 2019 semaria village : People Enchanted by road
Patrika IMAGE CREDIT: Patrika

क्यों नहीं बनी सड़क
सरपंच कलावती कोल ने बताया कि सेमरिया ग्राम पंचायत में चार गांव शामिल है। जिसमे सेमरिया, पुतरिहा, समोगर कोठार, समोगर उनमुक्त गांव है। चार टोला वाले सेमरिया गांव के स्कूल टोला और सड़क टोला के आवागन का साधन है लेकिन बीरभद्र टोला और राइदाई टोला मुख्य मार्ग से 2 किमी. कटा हुआ है। बताया गया कि ऐरा और सेमरिया के बीच में सर्गवाही तालाब से अंदर जाने के लिए 2 किमी. का पंचायत का डर्रा है। जिसमे कई लोगों की आराजी फंसती है। इसलिए आज तक सड़क नहीं बन पाई।

सामंजस्य का आभाव
सूत्रों की मानें तो गांव के कई लोग सड़क के लिए जमीन देने के लिए तैयार है। पर उनके परिवार के ही कुछ लोग नहीं चाहते कि सड़क बने। इसलिए आज दिनांक तक मुख्य मार्ग से बीरभद्र टोला और राइदाई टोला कटा हुआ है। पंचायत के जानकारों ने बताया कि शासन उन्हीं रोडों को बनाती है। जो पूर्ण रूपेण सरकारी होती है। बाद में यही रोड मुख्यमंत्री और प्रधानमंत्री से भी जुड़ जाती है। मुख्य मार्ग से कटे होने का दर्द बारिश के समय में ग्रामीणों को सबसे ज्यादा झेलना पड़ता है।

73 independence day 2019 semaria village : People Enchanted by road
Patrika IMAGE CREDIT: Patrika

पंचायत के बारे में एक नजर
- सरपंच- कलावती कोल
- सचिव- सोभनाथ सिंह पटेल
- जनपद पंचायत- अमरपाटन
- पंचायत में शामिल गांव- सेमरिया, पुतरिहा, समोगर कोठार, समोगर उनमुक्त
- कहां तक नहीं बनी सड़क- दो किमी.
- ग्राम पंचायत सेमरिया में कुल मतदाता- 1500
- सेमरिया गांव में मतदाता-900
- सड़क न बनने से प्रभावित लोग- 350
- बीरभद्र टोला में मतदाता- 250
- राइदाई टोला में मतदाता- 100

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned