रहिए सतर्क ! आज गरज-चमक के साथ बारिश और ओले गिरने की संभावना, प्रदेश के इन जिलों में गिरे ओले

आज फिर बिगड़ेगा मौसम का मिजाज, अभी ठंड से नहीं मिलेगी राहत

By: Anil singh kushwah

Published: 03 Mar 2019, 08:23 PM IST

सतना. मौसम में उतार-चढ़ाव के बीच शनिवार को आसमान में एक बार फिर काले बादल घिर आए। दिनभर धूप-छांव के बीच आकाश में काले बादल मंडराते रहे। कई बार बारिश के आसार भी बने, लेकिन राहत की बात यह रही कि बारिश नहीं हुई। अभी किसानों पर संकट टला नहीं है। मौसम विभाग ने रविवार को मौसम खराब रहने तथा शहर सहित जिलेभर में गरज-चमक के साथ बारिश होने की संभावना व्यक्त की है। कुछ स्थानों पर तेज हवा के साथ ओलावृष्टि भी हो सकती है। बिन मौसम आकाश में उमड़ रहे बादल किसानों की धड़कन बढ़ा रहे हैं। कृषि विशेषज्ञों का कहना है कि मार्च में तेज बारिश हुई तो इससे फसलों को नुकसान हो सकता है।

कटनी और सिवनी में आसमान से बरसी आफत, दलहन को नुकसान
रविवार को अचानक बदले मौसम के बाद आसमान से आफत बरसी। बहोरीबंद क्षेत्र के चार गांवों में शाम को बारिश के साथ गिरे ओलों व हवा से फसलें खेतों में बिछ गईं। 10 मिनट से अधिक गिरे ओले बेर से भी बड़े आकार के थे। जिले में सुबह से बादलों का डेरा था और हवा चल रही थी। दोपहर बाद एकदम से मौसम में बदलाव हुआ और ३ बजे से बूंदाबांदी शुरू हो गई। इसी बीच बहोरीबंद के सिंहुड़ी, किवलरहा, बसेहड़ी, बेजाहार गांव में बारिश के साथ ओले गिरने शुरू हो गए। जिससे किसानों की चिंता बढ़ गई। ओलावृष्टि व बारिश बंद होते ही किसान खेतों में पहुंच गए, जहां उन्हें फसलें जमीन पर लेटी मिलीं। ओला गिरने से हुए नुकसान को लेकर किसान चिंता में रहे।

अभी गुलाबी ठंड से राहत नहीं
इस वर्ष विंध्य में रिकार्डतोड़ ठंड पड़ी है। मार्च में भी लोगों रात में कंपकंपा देने वाली सर्दी का सामना करना पड़ रहा है। शनिवार को आसामान में बादल छाने से दिन के तापमान में चार डिग्री की वृद्धि दर्ज की गई। अधिकतम तापमान २७.० डिग्री सेल्सियस तथा न्यूनतम तापमान १०.८ डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। एक माह में छठी बार पश्चिमी विक्षोभ के असर से विंध्य में बारिश के आसार बन रहे हैं। मौसम में बदलाव के बीच अभी गुलाबी ठंड का दौर जारी रहेगा।

Anil singh kushwah Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned