बोर्ड परीक्षा: यूनिफॉर्म अनिवार्य, पर्स-मोबाइल और डिजिटल घड़ी पर रहेगी रोक

गड़बड़ी मिलने पर रद्द होंगी अन्य विषयों की परीक्षाए, सीबीएसई ने जारी की सख्त गाइडलाइन

By: Sonelal kushwaha

Published: 18 Feb 2020, 01:10 PM IST

सतना. सीबीएसई की बोर्ड परीक्षाओं में इस बार विशेष सख्ती बरती जा रही। परीक्षा के दौरान विद्यार्थियों के लिए यूनिफार्म अनिवार्य किया गया है। उन्हें प्रवेश पत्र के साथ आईडी कार्ड भी लाने के लिए निर्देशित किया गया है ताकि प्रवेश पत्र में कोई गड़बड़ी होने पर वेरीफाई किया जा सके। एग्जाम हाल में कोई भी इलेक्ट्रॉनिक उपकरण लेकर जाना प्रतिबंधित है। खासकर मोबाइल व डिजिटल घड़ी जैसे डिवाइस गलती से भी लेकर न पहुंचें अन्यथा नकल प्रकरण बनाया जा सकता है। परीक्षा संबंधी जरूरी शर्तें एडमिट कार्ड में अंकित की गई हैं, इसमें अभिभावकों को हस्ताक्षर कर अपनी सहमति देनी होगी।

उल्लेखनीय है, सीबीएसई की बोर्ड परीक्षाएं १५ फरवरी से शुरू हो गई हैं। १०वीं कक्षा में मुख्य विषयों की परीक्षा २२ से और १२वीं कक्षा मेन पेपर २६ फरवरी से शुरू होंगे। इसके लिए सीबीएसई के सचिव अनुराग त्रिपाठी ने विद्यार्थियों और अभिभावकों के नाम पत्र जारी कर जरूरी शर्तों से अवगत कराते हुए सहयोग बनाए रखने की अपील की है। उन्होंने विद्यालय के प्राचार्य व शिक्षकों से भी निर्धारित नॉम्र्स और नियमों के हिसाब से ही परीक्षाएं संपन्न कराने की अपील की है। कहा, कहीं भी कोई संदेहास्पद गतिविधि सामने आए तो तत्काल सीबीएसई के संज्ञान में लाएं।

१० बजे के बाद नहीं मिलेगा प्रवेश
विद्यार्थियों को सलाह दी गई कि परीक्षा शुरू होने से एक दिन पहले आवंटित केंद्र में जाकर अपनी सीट देख लें। परीक्षा के दिन सुबह ९.३० बजे तक एग्जाम सेंटर पहुंचने के लिए निर्देशित किया गया है। सुबह १० बजे के बाद उन्हें प्रवेश नहीं दिया जाएगा। इस दौरान अनुशासनहीनता करने पर परीक्षा से वंचित किया जा सकता है।

आठ डिजिट का रोल नंबर
सीबीएसई ने इस बार आठ डिजिट के रोल नंबर आवंटित किए हैं, लेकिन उत्तरपुस्तिका में ७ बाक्स ही इसके लिए उपलब्ध कराए गए हैं। इसलिए विद्यार्थी कन्फ्यूज न हों। एक बाक्स अपने से बनाकर पूरे आठ डिजिट का रोलनंबर फिल करें। किसी प्रकार की समस्या होने पर पर्यवेक्षक की भी मदद ले सकते हैं।

... ताकि आसानी से हो सके पहचान
सीबीएसई द्वारा जारी गाइडलाइन के अनुसार, यदि किसी सेंटर में एक से अधिक विद्यालयों के परीक्षार्थी हैं तो उन्हें बीच-बीच में बैठाने की व्यवस्था करें ताकि गड़बड़ी की संभावना कम से कम रहे। इस दौरान कोई आपस में बात करते या फिर प्रतिबंधित सामग्री के साथ पकड़ा जाता है तो परीक्षा से वंचित कर दिया जाएगा। परीक्षा में पर्स, वालेट व अनावश्यक पेपर के टुकड़े भी प्रतिबंधित हैं। इस दौरान विद्यार्थियों को सिम्पल पन्नी में सिर्फ पेन-पेंसिल अन्य जरूरी सामग्री लेकर ही आने के लिए कहा गया है।

Sonelal kushwaha
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned