Chitrakoot by-election: जनता का मत EVM में कैद, कौन होगा MLA फैसला 12 नवंबर को

मतदाताओं में दिखा उत्साह: चित्रकूट विधानसभा उपचुनाव में मतदाताओं ने बढ़-चढ़कर हिस्सा लिया।

By: suresh mishra

Published: 10 Nov 2017, 11:19 AM IST

सतना। चित्रकूट विधानसभा उपचुनाव में मतदाताओं ने बढ़-चढ़कर हिस्सा लिया। २५७ मतदान केंद्रों में तय समय सुबह सात बजे से मतदान शुरू हो गया। यहां रिकार्ड 65.07 फीसदी मतदान हुआ। महिला मतदाताओं ने पुरुष मतदाताओं को पीछे छोड़ दिया। लगभग आधा दर्जन केंद्रों से ईवीएम में खराबी की बात सामने आई। हालांकि कुछ देर बाद फिर से मतदान शुरू हो गया। मतदान पूरी तरह शांति पूर्ण संपन्न हुआ।

केंद्र के बाहर छिटपुट तनातनी की खबरें आती रहीं, लेकिन सख्त सुरक्षा इंतजाम के कारण वाद-विवाद की स्थिति नहीं बन सकी। मतदान का समय ५ बजे तक था, लेकिन करीब एक दर्जन बूथों में पांच बजे के बाद भी कतार बनी रही। उन मतदाताओं को पर्ची देकर तय समय के बाद तक मतदान कराया गया।

मॉकपोल के साथ ही जुटने लगी थी भीड़
उपचुनाव को लेकर लोगों में काफी उत्साह देखने को मिला। मतदान केंद्रों में प्रात: ६ बजे से शुरू हुए मॉकपोल के दौरान ही काफी संख्या में लोग मतदान केंद्र में पहुंच गए थे। इस दौरान लोगों ने ईवीएम में दबने वाले हर बटन पर पैनी निगाह रखी। सात बजे से मतदान प्रक्रिया शुरू हुई। हल्की ठंड के बीच शुरुआती दौर में मतदाता पहुंचे और मतदान में जमकर उत्साह दिखाया। मतदान के बाद कुछ मतदाता केंद्र के बाहर खड़े होकर ट्रेंड का आकलन करते नजर आए। शुरुआती दौर में मतदान तेज हुआ और बाद में गति धीमी हो गई।

दूसरे राउंड में सबसे ज्यादा वोटिंग
मतदाताओं में सबसे तेज गति से मतदान ९-११ बजे के बीच देखने को मिला। इस दौरान १९.२६ फीसदी मतदाताओं ने मत का प्रयोग किया। शुरुआती दौर में सुबह ७-९ बजे के बीच ८.६२ फीसदी मतदाताओं ने मत का प्रयोग किया। वहीं ९-११ के बीच १९.२६ फीसदी, ११-१ बजे के बीच १६.७५ फीसदी, १-३ बजे के बीच १४.६४ फीसदी व ३-५ बजे के बीच ५.७९ फीसदी मतदाताओं ने वोट डाले। सबसे कम मतदान शाम के वक्त था। दूसरे व तीसरे राउंड में रिकॉर्ड तोड़ मतदान हुआ।

पीठासीन की डायरी से मिलेंगे आंकड़े
चित्रकूट विधानसभा उपचुनाव के कंट्रोल रूम से मिले आंकड़ों के आधार पर ६५.०७ फीसदी मतदान हुआ। इसमें ६५.८९ फीसदी महिला और ६४.३७ फीसदी पुरुष ने मतदान किया। हालांकि यह सेक्टर अधिकारियों से मिली जानकारी के अनुसार मिले मतदान के अंतिम आंकड़े हैं। वास्तविक मतदान का प्रतिशत पीठासीन अधिकारी की डायरी जमा होने के बाद ही मिल सकेगा।

मतदान केंद्र के अंदर बाहरी
मतदान केंद्र हिरौंदी के अंदर बाहरी व्यक्ति के दाखिल होने को लेकर सुबह-सुबह जमकर बवाल हुआ। कांग्रेस पार्टी के कार्यकर्ता बाहर करने को लेकर हो-हल्ला मचाने लगे। इसी बीच प्रेक्षक अश्वनी कुमार पहुंचे। इसके बाद बाहरी व्यक्ति को केंद्र से बाहर निकाला गया। उसके बाहर निकलते ही कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने घेर लिया। पुलिस के हस्तक्षेप के बाद माहौल मुश्किल से शांत हुआ।

सुबह से लगी लम्बी कतार
मझगवां की तीनों पोलिंग में सुबह से मतदाताओं की लम्बी कतार लगी हुई थी। लोगों में मताधिकार को लेकर खासा उत्साह था। इसमें बड़ी संख्या में महिलाएं शामिल थीं। बाजार में अन्य दिनों की बजाय सन्नाटा पसरा हुआ था। चाय-पान को छोड़ सभी दुकानों में ताला लटका हुआ था।

शुरू में पिछड़ी महिलाएं
मतदान प्रतिशत के आंकड़ों पर गौर करें तो इस बार कुल ६५.०७ फीसदी मतदान हुआ। इसमें ६५.८९ महिलाएं व ६४.३७ पुरुष मतदाता रहे। इस तरह महिलाएं आगे रहीं। शुरुआती राउंड में महिलाएं पीछे छूट गईं थी। ७-९ बजे तक ८.६२ फीसदी मतदान हुआ। इसमें महिला ८.३१ फीसदी व पुरुष ८.९४ फीसदी थे। लेकिन, दूसरे राउंड में महिला मतदाताओं की संख्या बढ़ी और इसके बाद वे फिर पुरुषों से आगे बनी रहीं। ९-११ बजे में २८.०२ फीसदी महिलाएं व २७.७८ फीसदी पुरुष मतदाता रहे। ११-१ बजे में ४५.५० फीसदी महिलाएं व ४३.९० पुरुष मतदाता रहे। १ -३ बजे में ६१.१५ फीसदी महिलाएं व ५७.६५ पुरुष मतदाता रहे। ३-५ बजे में ६५.८९ फीसदी महिलाएं व ६४.३७ फीसदी पुरुष मतदाता रहे।

बीएलओ को कर दिया बाहर
पिंडरा के मतदान केंद्र क्रमांक-९० में सुरक्षा व्यवस्था में तैनात स्टाफ द्वारा बूथ लेवल ऑफिसर को बाहर कर दिया गया था। सुरक्षाकर्मियों ने आरोप लगाया कि बीएलओ द्वारा अनावश्यक भीड़ केंद्र में एकत्रित की जा रही थी। बीएलओ द्वारा पुलिस अधिकारियों से शिकायत दर्ज करायी गयी। इसके बाद उसे परिसर दाखिल कराया गया।

suresh mishra
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned